Home » खेल » PCB Officials Hope SriLankan Players Might Come Pakistan For Test Series
 

PCB को उम्मीद पाकिस्तान में मिली सुरक्षा से खुश हैं श्रीलंकाई खिलाड़ी! दिसंबर में कर सकतें हैं पाकिस्तान का दौरा

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 October 2019, 19:52 IST

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड इस बात की उम्मीद लगाए बैठा है कि जिन श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए वनडे और टी20 सीरीज खेलने के लिए पाकिस्तान आने से मना कर दिया था, वो खिलाड़ी दो टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए पाकिस्तान आ सकते है. बता दें, पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने दिसंबर महीन में पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच बोने वाली दो टेस्ट मुकाबलों की सीरीज के लिए वेन्यू का ऐलान कर दिया है. सीरीज का पहला मुकाबला रावलपिंडी में खेला जाएगा जबकि दूसरे मुकाबले का वेन्यू लाहौर रखा गया है.

गौरतलब हो, पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच अभी वनडे और टी20 मैचों की सीरीज हुई है. इस सीरीज के पहले श्रीलंकाई टीम के 10 सीनीयर खिलाड़ियों ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए पाकिस्तान जाने से मना कर दिया था जिसके बाद कम अनुभवी श्रीलंकाई टीम को पाकिस्तान भेजा गया था.

पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच हुई तीन वनडे मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला बारिश में धुल गया था जबकि बाकी के बचे दोनों मुकाबले में श्रीलंकाई टीम ने बाजी मारी थी. वहीं तीन मैचों की टी 20 सीरीज में कम अनुभवी श्रीलंकाई टीम ने विश्व की नंबर एक टी20 टीम को धूल चटाई थी और 3-0 से सीरीज अपने नाम की थी.

अगर सब कुछ सही रहा और पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच टेस्ट सीरीज जो विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा भी हैं, तय कार्यक्रम के अनुसार होई तो ऐसा 10 सालों के बाद होगा जब पाकिस्तान में किसी टेस्ट सीरीज का आयोजन होगा. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार पीसीबी के एक अधिकारी ने कहा,' हमें इस बात के संकेत मिल रहे है कि जिन 10 श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने सुरक्षा कारणों के कारण सितंबर और अक्टूबर में हुई वनडे और टी20 सीरीज से अपना नाम वापस ले लिया था वो टेस्ट सीरीज के लिए पाकिस्तान आ सकते है.'

रिपोर्ट के अनुसार हालांकि अभी तक श्रीलंकाई बोर्ड ने पाकिस्तानी बोर्ड को इस सीरीज के लिए हामी नहीं भरी है. खबर के मुताबिक पाकिस्तानी बोर्ड के अधिकारी ने कहा हैं कि श्रीलंकाई बोर्ड अगले सप्ताह श्रीलंकाई सरकार और बोर्ड प्रशासन के बात करने के बाद कोई फैसला लेगी.

रिपोर्ट के मुताबिक श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड ने पाकिस्तान दौरे से जो खिलाड़ी और श्रीलंकाई टीम के साथ जुड़े अधिकारी वापस आए उनसे दौरे के बारे में उन खिलाड़ियों के सामने ब्रीफिंग करवाई थी जिन्होंने पाकिस्तान जाने से इंकार किया था. पीसीबी के अधिकारी ने कहा,'जिन 10 खिलाड़ियों ने पाकिस्तान आने से मना किया था वो अपने साथियों और अधिकारियों द्वारा पाकिस्तान में सुरक्षा स्थिति और उनके लिए की गई व्यवस्था के बारे में दी गई ब्रीफिंग से संतुष्ट थे. उनमें से अधिकांश ने टेस्ट श्रृंखला खेलने की इच्छा दिखाई है.'

हालांकि इस दौरान श्रीलंकाई खिलाड़ियों को अधिक सुरक्षा के कारण जिन कठिनाईयों का सामना करना पड़ा था वो भी शामिल था. पाकिस्तान में श्रीलंकाई खिलाड़ियों को काफी कड़ी सुरक्षा दी गई थी जिस कारण खिलाड़ियों को हमेशा होटल में रहना पड़ रहा था जिससे उन्हें कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ा.

वहीं रिपोर्ट में इस बात का भी दावा किया गया है कि अगर श्रीलंकाई बोर्ड की कार्यकारी समिति इस सीरीज के लिए अपनी अनुमति दे देती है तो उसके बाद श्रीलंकाई बोर्ड एक सुरक्षा प्रतिनिधिमंडल भेजेगा जो रावलपिंडी और कराची में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेगा.

बता दें, साल 2009 में श्रीलंकाई टीम पर हुए आंतकी हमले के बाद से किसी भी टीम ने पाकिस्तान में जाकर टेस्ट सीरीज नहीं खेली है. अगर पाकिस्तानी बोर्ड श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज का सफल आयोजन कर लेता है तो यह पाकिस्तानी बोर्ड की एक बड़ी उपलब्धी मानी जाएगी. क्योंकि बोर्ड बीते काफी अरसे से पाकिस्तान में क्रिकेट वापस लाने पर विचार कर रहा है.

दिल्ली के 'दम घोटू' प्रदूषण में मास्क लगाकर अभ्यास कर रहे हैं बांग्लादेशी खिलाड़ी

First published: 31 October 2019, 19:13 IST
 
अगली कहानी