Home » खेल » Pranav Dhanawade: record-breaking 15-year-old Mumbai cricketer
 

शानदार, जबर्दस्त, जिंदाबाद: क्रिकेटर प्रणव धनावड़े के बेमिसाल कारनामे

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 January 2016, 21:02 IST

कुछ पारियां रिकॉर्ड तोड़ने के लिए होती हैं लेकिन कुछ करिश्माई पारियां इतिहास में मील का पत्थर बन जाती हैं. मुंबई के स्कूली छात्र प्रणव धनावड़े की पारी कुछ ऐसी ही है. 15 साल के प्रणव ने 1009 रनों की पारी खेलकर क्रिकेट इतिहास के पुराने सभी रिकॉर्ड तोड़ डाले हैं.

मुंबई के एचटी भंडारी इंटर स्कूल कप अंडर-16 क्रिकेट टूर्नामेंट में में प्रणव धनावड़े ने क्रिकेट इतिहास की सबसे बड़ी पारी खेली. उन्होंने 323 गेंदों पर नाबाद 1009 रन बनाए.

प्रणव से पहले मुंबई के ही पृथ्वी शॉ ने 546 रन बनाए थे. पृथ्वी की पारी प्रथम श्रेणी क्रिकेट की भारत में सर्वश्रेष्ठ पारी थी. प्रणव भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली को अपना आदर्श मानते हैं. उनके पिता ठाणे में ऑटो रिक्शा चलाते हैं.

ऐतिहासिक पारी खेलने के बाद उन्होंने कहा, "मुझे पृथ्वी के रिकॉर्ड के बारे में पता था, इसलिए उस स्कोर के करीब पहुंचकर मैं थोड़ा ध्यान से खेला. मेरी कामयाबी में मेरे कोच हरीश शर्मा का बड़ा योगदान है."

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने भी प्रणव को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी. उन्होंने मंगलवार को ट्वीट किया.

sachin.png

रिकॉर्ड जो प्रणव की पारी से टूट गए

उन्होंने करीब 116 साल पुराने रिकॉर्ड को तोड़ा. 1899 में इंग्लैंड में खेले गए एक क्लब मैच में एईजे कॉलिंस ने नाबाद 628 रनों की पारी खेली थी.

प्रणव की इस पारी से केसी गांधी इंग्लिश स्कूल ने आर्य गुरुकुल स्कूल के खिलाफ 1465 रन पर पारी समाप्त घोषित की. क्रिकेट के किसी भी फार्मेट में यह किसी भी टीम का सबसे बड़ा स्कोर है.

इससे पहले 1926 में विक्टोरिया की टीम ने न्यू साउथ वेल्स के खिलाफ 1,107 रन बनाए थे.

प्रणव ने अपनी पारी में 129 चौके और 59 छक्के जमाए.

First published: 5 January 2016, 21:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी