Home » खेल » Rio 2016 :russia won the first gold in judo caught doping controversy
 

रियो ओलंपिक: डोपिंग विवादों में फंसी रूसी टीम को मिला पहला स्वर्ण

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 August 2016, 15:11 IST
(साभार: Sputnik )

रियो ओलंपिक में शुरू होने से पहले डोपिंग विवादों में फंसे रूस को शनिवार को जूडो में बेसलन मुडरानोव ने पहला स्वर्ण पदक दिलाया. मुडरानोव ने पुरूषों के 60 किलोग्राम वर्ग में कजाखस्तान के येल्दोस समेतो को हराया.

पदक जीतने के बाद मुडरानोव ने कहा, ‘‘हमारे देश पर बहुत अधिक मनोवैज्ञानिक दबाव था इसलिए पहले ही दिन स्वर्ण पदक जीतना हमारे देश के लिहाज से बहुत महत्वपूर्ण है.’’

रियो ओलंपिक में रूस के 271 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं. गौरतलब है कि दो साल तक चली जांच के बाद यह खुलासा हुआ है कि रूसी खिलाड़ी 2014 के सोच्चि शीतकालीन खेलों समेत अन्य टूर्नामेंटों में प्रतिबंधित दवाओं का सेवन कर रहे थे.

कनाडा के कानूनी विशेषज्ञ रिचर्ड मैकलारेन ने वाडा के लिये की गई जांच में पाया कि रूस की खुफिया सेवा ने डोपिंग में मदद की और पिछले पांच साल में यह 30 खेलों तक फैल गया था.

वाडा की रिपोर्ट के बाद अब तक 105 रूसी खिलाड़ियों पर प्रतिबंध लगाया जा चुका है. इस साल रूस के 387 खिलाड़ी ओलंपिक में भाग लेने की तैयारी कर रहे थे.

First published: 7 August 2016, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी