Home » खेल » Rio Olympics 2016: Abhinav Bindra, Gagan Narang in spotlight
 

रियो में भारत: इतिहास दोहराने के इरादे से उतरेंगे अभिनव बिंद्रा

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 August 2016, 12:03 IST

रियो ओलंपिक के तीसरे दिन भारतवासियों की उम्मीद निशानेबाज अभिनव बिंद्रा और गगन नारंग से है. भारत के शूटिंग स्टार बिंद्रा बीजिंग ओलंपिक (2008) में 10 मीटर एयर राइफल में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच चुके हैं. ओलंपिक के 116 वर्षों के इतिहास में पहली बार किसी भारतीय (बिंद्रा) ने किसी व्यक्तिगत स्पर्धा में स्वर्ण पदक हासिल किया था.

बिंद्रा 10 मीटर एयर राइफल प्रतियोगिता में अपनी दावेदारी पेश करेंगे. 33 वर्षीय बिंद्रा फिलहाल शानदार फॉर्म में चल रहे हैं. पिछले साल सितंबर महीने में उन्होंने एशियन एयर गन चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता है. बिंद्रा का यह आखिरी और पांचवां ओलंपिक हैं.

वहीं लंदन ओलंपिक 2012 में कांस्य पदक जीत चुके गगन नारंग भी 10 मीटर एयर राइफल में हिस्सा लेंगे. 10 मीटर एयर राइफल पुरुष स्पर्धा के क्वालीफिकेशन राउंड में 56 खिलाड़ी अपनी चुनौती पेश करेंगे.

हॉकी: भारत का सामना मजबूत जर्मनी से

भारत की पुरुष हॉकी जर्मनी के साथ मैच खेलने के लिए मैदान में उतरेगी, जबकि भारतीय महिला हॉकी टीम ब्रिटेन के साथ दो-दो हाथ करेगी. भारतीय टीम ने पूल-बी के पहले मैच में आयरलैंड को 3-2 से हराया है जो ओलंपिक में 12 साल बाद भारतीय टीम की पहली जीत थी.

जर्मनी ने अपना अभियान कनाडा को 6 -2 से हराकर शुरू किया है. वह पिछले 2008 बीजिंग और 2012 लंदन ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीत चुकी है. जर्मनी के खिलाफ ओलंपिक  में भारत का रिकॉर्ड भी उनके पक्ष में नहीं है.

भारत ने जर्मनी के खिलाफ ओलंपिक में आखिरी मैच 1996 अटलांटा खेलों में जीता था. लंदन ओलंपिक 2012 में जर्मनी ने भारत को 5-2 से शिकस्त दी थी.

First published: 8 August 2016, 12:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी