Home » खेल » Rio Olympics: Organiser angry about Union Sports Minister Vijay Goyal's behavior
 

रियो ओलंपिक में खेल मंत्री विजय गोयल का मान्यता कार्ड रद्द करने की चेतावनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST
(ट्विटर)

रियो ओलंपिक में भारत के खेल मंत्री विजय गोयल के व्यवहार से आयोजक नाराज हैं. गोयल के दल से गुस्साए रियो ओलंपिक के आयोजकों ने कहा कि अगर उनके साथ गए लोगों ने अपना ‘आक्रामक और असभ्य’ व्यवहार बंद नहीं किया, तो उनका मान्यता कार्ड रद्द किया जा सकता है.

रियो ओलंपिक-2016 की आयोजन समिति के महाद्वीपीय प्रबंधक सारा पीटरसन ने इस मामले में एक खत भी लिखा है.

भारतीय दल प्रमुख राकेश गुप्ता को लिखे पत्र में पीटरसन ने कहा, "हमें आपके खेल मंत्री की कई रिपोर्ट मिली हैं, जो स्थलों के मान्यता प्राप्त क्षेत्रों में उन लोगों के साथ घुसने की कोशिश कर रहे हैं जिनके पास मान्यता कार्ड नहीं हैं.

खत में आगे उन्होंने लिखा, "जब स्टाफ ने उन्हें यह बताने की कोशिश की कि इसकी इजाजत नहीं है, तो मंत्री के साथ लोगों ने आक्रामक और असभ्य व्यवहार करना शुरू कर दिया और कभी-कभार उन्होंने हमारे स्टाफ को धक्का भी देने की कोशिश की."

खेल मंत्री विजय गोयल यहां भारतीय दल का उत्साह बढ़ाने के लिए मौजूद हैं, इसके अलावा वह खेल गांव में उनकी जरूरतों की भी निगरानी कर रहे हैं.

सारा पीटरसन ने कहा, "आप समझ सकते हैं, इस तरह का व्यवहार स्वीकार्य नहीं है. पिछली चेतावनियों के बावजूद आज भी इसी तरह की घटना जिमनास्टिक स्थल और कैरियोका एरीना-3 में हुई." सारा ने कहा कि मंत्री का मान्यता कार्ड इसके कारण रद्द किया जा सकता है.

गोयल ने दी सफाई

इस बीच पूरे मामले पर खेल मंत्री विजय गोयल का ट्वीट आया है. ट्वीट में गोयल ने लिखा, "जहां तक मेरी जानकारी है, हम सभी नियमों का पालन कर रहे हैं. हम ओलंपिक की भावना के प्रति समर्पित हैं और अपने भारतीय खिलाड़ियों का समर्थन कर रहे हैं."

विजय गोयल ने सफाई देते हुए किसी भी अनियमितता की बात से इनकार किया है. गोयल ने अगले ट्वीट में लिखा, "मुझे लगता है कि कुछ गलतफहमी हुई है, क्योंकि हम लोग आयोजकों द्वारा दिए गए प्रोटोकॉल और दिशा-निर्देशों का पालन कर रहे हैं."

First published: 12 August 2016, 12:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी