Home » खेल » Rio Paralympics: Mariyappan Thangavelu wins gold, Varun Bhati bronze in in Men's T42 High Jump
 

रियो पैरालंपिक: मरियप्पन थांगावेलू ने जीता गोल्ड, भाटी ने कांस्य अपने नाम किया

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 September 2016, 12:34 IST
(गेट्टी इमेज)

रियो में पैरा ओलंपिक खेलों में भारत ने दो बड़े मेडल जीतकर अपने अभियान का शानदार आगाज किया है. पैरा ओलंपिक खेलों के दूसरे दिन पुरुष हाई जम्प टी-42 इवेंट में मरियप्पन थांगावेलू ने गोल्ड और  वरुण सिंह भाटी ने कांस्य पदक पर कब्ज़ा जमाकर इतिहास रच दिया है.

मरियप्‍पन थांगावेलू ने 1.89 मी. की जंप लगाते हुए गोल्ड जीता, जबकि भाटी ने 1.86 मी. की जंप लगाते हुए कांस्य पदक अपने नाम किया. वहीं अमेरीका के सैम ग्रेवी ने रजत पदक जीता. इसके साथ ही मरियप्‍पन पैरा ओलंपिक खेलों में मुरलीकांत पेटकर (स्वीमिंग 1972 हेजवर्ग) और देवेंद्र झाझरिया (भाला फेंक, एथेंस 2004 ) के बाद गोल्ड जीतने वाले तीसरे भारतीय बन गए हैं.

20 वर्षीय मरियप्पन तमिलनाडु के सालेम से 50 किलोमीटर दूर स्थित गांव पेरियावदगम्पति के रहने वाले हैं.

दूसरी तरफ, भारत के ही संदीप भाला फेंक कांस्य जीतने से चूक गए और वह चौथे स्थान पर रहे. थांगावेलू और भाटी के पदक जीतने के बाद अभी तक के सभी पैरा ओलंपिक खेलों में भारत के कुल पदकों की संख्या 10 हो गई है, जिसमें 3 स्वर्ण, तीन रजत और चार कांस्य शामिल है.

पैरा ओलंपिक खेलों में भारत के दो मेडल जीतने पर खेल मंत्री विजय गोयल ने कहा, "यह एक बड़ी उपलब्धि है और मुझे अपने एथलीटों पर बहुत गर्व है."

वहीं खेल मंत्रालय ने मंत्रालय की नकद पुरस्कार योजना के तहत मरियप्‍पन 75 लाख और भाटी को 30 लाख रुपए देने का एलान किया है.

First published: 10 September 2016, 12:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी