Home » खेल » Roger Federer beats Marin Cilic to reach 11th time Wimbledon semi-finals
 

विंबलडन: रिकॉर्डतोड़ जीत के साथ रोजर फेडरर 11वीं बार सेमीफाइनल में

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 July 2016, 14:29 IST
(विबंलडन)

रोजर फेडरर ने बुधवार को क्वार्टर फाइनल मुकाबले में क्रोएशिया के मारिन सिलिच के खिलाफ तीन मैच प्वाइंट बचाकर 11वीं बार विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश किया. विंबलडन के सेमीफाइनल में पहुंचने के साथ ही फेडरर ने ग्रैंडस्लैम में सर्वाधिक जीत दर्ज करने का नया रिकॉर्ड भी बनाया.

विंबलडन में सात बार चैंपियन रह चुके और यहां तीसरी वरीयता प्राप्त फेडरर ने नौवीं सीड सिलिच से पांच सेटों तक चला यह मुकाबला तीन घंटे 17 मिनट के जबरदस्त संघर्ष में जीता.

रोमांचक मैच में दर्ज की जीत

फेडरर ने बेहतरीन ग्राउंड स्ट्रोक खेले और सिलिच पर लगातार दबाव बनाते हुए उन्हें गलतियां करने पर मजबूर किया. सिलिच आखिरकार दबाव में टूट गये और मैच गंवा बैठे.

फेडरर और सिलिच का यह मुकाबला हर लिहाज से रोमांचक रहा. फेडरर ने 40-15 के स्कोर पर एस लगाते हुए जीत अपने नाम की और फिर हाथ उठाकर दर्शकों का अभिवादन किया.

जीत के बाद खुशी मनाते फेडरर (विंबलडन)

फेडरर ने तोड़ा नवरातिलोवा का रिकॉर्ड

स्विस स्टार फेडरर की यह विंबलडन में 84वीं और ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट में 307वीं जीत है. इसके साथ ही उन्होंने मार्टिना नवरातिलोवा के 306 मैचों में जीत के रिकॉर्ड को तोड़ दिया. वह 40वीं बार किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचे हैं.

वह अब अपने 18 वें ग्रैंड स्लैम खिताब से दो कदम दूर रह गये हैं. स्विस मास्टर ने अपना आखिरी ग्रैंड स्लैम खिताब 2012 में विंबलडन में ही जीता था. इस तरह वे 1974 में 39 वर्षीय केन रोजवाल के बाद विंबलडन सेमीफाइनल में पहुंचने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी भी बन गए हैं.

रोजर फेडरर यदि इस विंबलडन खिताब को जीतने में सफल रहते हैं, तो यह उनका आठवां खिताब होगा जो कि नया रिकॉर्ड होगा. फेडरर के अलावा पीट सैम्प्रास और विलियम रेनशा के नाम पर सात-सात खिताब दर्ज हैं.

एक अन्य क्वार्टर फाइनल में 10वीं वरीयता प्राप्त चेक गणराज्य के टॉमस बेर्डिच ने फ्रांस के लुकास पाओलिन को 7-6, 6-3, 6-2 से हराया. सेमीफाइनल में उनका सामना ब्रिटेन के एंडी मरे और फ्रांस के जो विलफ्रेड सोंगा के बीच मुकाबले के विजेता से होगा.

First published: 7 July 2016, 14:29 IST
 
अगली कहानी