Home » खेल » Sindhu, sakshi, jitu, dipa conferred with khel ratna award
 

राष्ट्रपति ने साक्षी, सिंधू, दीपा और जीतू को खेल रत्न से किया सम्मानित

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 August 2016, 14:03 IST
(डीडी न्यूज)

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 29 अगस्त को राष्ट्रपति भवन में पहलवान साक्षी मलिक, बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधू, जिम्नास्ट दीपा कर्माकर और निशानेबाज जीतू राय को प्रतिष्ठित राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड से सम्मानित किया. इसके अलावा, 15 खिलाड़ियों को अर्जुन अवॉर्ड से नवाजा गया.

बीते 25 साल में यह पहली बार है कि एक साथ चार खिलाड़ियों को खेल रत्न सम्मान से नवाजा गया है. इससे पहले 2009 में एक साथ तीन खिलाड़ी महिला बॉक्सर मेरी कॉम, बॉक्सर विजेंद्र सिंह और रेसलर सुशील कुमार को ये अवॉर्ड दिया गया था.

इस समारोह से एक दिन पहले पीएम मोदी ने रविवार को अपने आवास 7 रेस कोर्स रोड पर ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधू, साक्षी मलिक के साथ दीपा कर्माकर और जीतू राय समेत कई खिलाड़ियों से मुलाकात की. सिंधू के कोच पुलेला गोपीचंद और खिलाड़ियों के माता-पिता भी उनके साथ थे. इस मौके पर खेल मंत्री विजय गोयल भी मौजूद थे.

पीएमओ

पहलवान साक्षी मलिक ने रियो ओलंपिक में कांस्य और बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधू ने रजत पदक जीतकर इतिहास रचा है. वहीं जिम्नास्ट दीपा कर्माकर और निशानेबाज जीतू राय भले ही पदक जीतने से चूक गए, लेकिन उन्होंने करोड़ों देशवासियों का दिल जीता है.

हरियाणा की रहने वाली 23 वर्षीय साक्षी मलिक ने रियो में 58 किग्रा भारवर्ग फ्रीस्टाइल कुश्‍ती में कांस्‍य पदक हासिल कर इतिहास रचा. साक्षी पहली भारतीय महिला पहलवान हैं, जिन्होंने ओलंपिक में पदक जीता है. 

ओलंपिक फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू भले ही सोने का तमगा हासिल करने से चूक गईं, लेकिन उन्होंने भारतीय ओलंपिक इतिहास में अपना नाम स्वर्ण अक्षरों में लिखवा लिया.

सिंधू ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी हैं. उनसे पहले सायना ने लंदन ओलंपिक सेमीफाइनल में प्रवेश किया था. हालांकि, सायना सेमीफाइनल मैच जीत नहीं पाई और उन्हें कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा.

पिछले 52 साल में दीपा भारत की पहली जिम्नास्ट हैं, जिन्होंने ओलंपिक में क्वालिफाई किया है. दीपा असाधारण प्रदर्शन के बावजूद जिमनास्टिक की वॉल्ट इवेंट में चौथे नंबर पर रहीं.

उन्होंने दो प्रयासों में कुल 15.066 अंक हासिल किए और बड़े मामूली अंतर से कांस्य पदक से चूक गईं. दीपा प्रोडूनोवा वॉल्ट करती हैं. जिमनास्टिक्स इतिहास में सिर्फ पांच महिलाएं ही सही तरीके से प्रोडूनोवा वॉल्ट कर सकी हैं.

जिम्नास्ट दीपा कर्माकर के कोच बिश्वेश्वर नंदी और भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली के मेंटर राजकुमार शर्मा को राष्ट्रपति भवन में द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया. 

वहीं निशानेबाज जीतू राय ने पिछले दो साल में पिस्टल निशानेबाजी में शानदार प्रदर्शन किया है, हालांकि वह रियो ओलंपिक में पदक नहीं जीत सके. 10 मीटर एयर पिस्टल के फाइनल में वह आठवें स्थान पर रहे.

जून महीने में अजरबेजान के बाकू में आईएसएसएफ विश्व कप प्रतियोगिता में 10 मीटर एयर पिस्टल में रजत पदक जीतने वाले जीतू राय ने तीन साल में छह बार विश्व कप में पदक जीता है.

गौरतलब है कि महान हॉकी खिलाड़ी ध्यानचंद के जन्मदिन 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल पुरस्कार प्रदान किए जाते हैं. यह पुरस्कार खिलाड़ियों तथा प्रशिक्षकों को खेलों के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए प्रदान किया जाता है. इनमें मुख्यत: राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार, अर्जुन पुरस्कार और द्रोणाचार्य पुरस्कार शामिल हैं.

विजेताओं की सूची

राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड

  • पीवी सिंधू- बैडमिंटन 
  • साक्षी मलिक- कुश्ती
  • दीपा कर्माकर- जिम्नास्टिक
  • जीतू राय - निशानेबाज 

द्रोणाचार्य पुरस्कार

  • बिश्वेश्वर नंदी- जिम्नास्टिक
  • राजकुमार शर्मा- क्रिकेट
  • नागपुरी रमेश - एथलेटिक्स
  • सागर मल दयाल - मुक्केबाजी
  • प्रदीप कुमार- तैराकी (आजीवन)
  • महावीर सिंह- कुश्ती (आजीवन) 
अर्जुन पुरस्कार 2016

  • रजत चौहान - तीरंदाजी
  • ललिता बाबर- एथलेटिक्स
  • सौरव कोठारी- बिलियर्डस एवं स्नूकर
  • शिव थापा- मुक्केबाजी
  • अजिंक्य रहाणे- क्रिकेट
  • सुब्रत पॉल- फुटबॉल
  • रानी- हॉकी
  • वी आर रघुनाथ-हॉकी
  • गुरप्रीत सिंह- निशानेबाजी
  • अपूर्वी चंदेला- निशानेबाजी
  • सौम्यजीत घोष- टेबल टेनिस
  • विनेश- कुश्ती
  • अमित कुमार - कुश्ती
  • संदीप सिंह मान- पैरा एथलेटिक्स
  • वीरेंद्र सिंह- कुश्ती (बधिर)

ध्यानचंद पुरस्कार 

  • सती गीता- एथलेटिक्स
  • एस डुंग डुंग- हॉकी
  • राजेंद्र प्रहलाद शेल्के- रोइंग

First published: 29 August 2016, 14:03 IST
 
अगली कहानी