Home » खेल » Spin bowling will challenge for us: New Zealand's Kane Williamson
 

स्पिन का सामना करना होगा चुनौती: न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 September 2016, 15:37 IST
(क्रिकेट डॉट कॉम एयू)

टेस्ट सिरीज से शुरू होने से पहले न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने कहा है कि उनके बल्लेबाजों के लिये रविचंद्रन अश्विन एंड कंपनी का सामना करना थोड़ा मुश्किल होगा. न्यूजीलैंड के कोच माइक हेसन ने भी विलियमसन के इस बयान पर सहमति जतायी है.

विलियमसन ने आगे कहा कि उनके खुद के स्पिनरों को कूकाबुरा गेंद से एसजी टेस्ट के साथ तेजी से सामंजस्य बिठाना होगा. इसके साथ ही उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि स्पिन की भूमिका अहम होगी.

उन्होंने कहा, ‘‘पिछली श्रंखला में स्पिन ने अहम भूमिका निभायी थी. कुछ अवसरों पर बल्लेबाजी करना मुश्किल हो गया था. इसमें संदेह नहीं कि इसे खेलने में थोड़ी मुश्किल होगी.हमारे पास भी तीन बहुत अच्छे स्पिनर हैं. यह चुनौती होगी. भारत के खिलाफ उसकी सरजमीं पर खेलना सबसे कड़ी चुनौतियों में से एक है. एक टीम के रूप में हम खेलने को लेकर उत्साहित हैं. ’’

कोच हेसन ने कहा कि न्यूजीलैंड में उपमहाद्वीप के स्पिनरों की मददगार परिस्थितियां तैयार करना मुश्किल है. उन्होंने कहा, ‘‘हमने बुलावायो में काफी समय बिताया. उस श्रंखला में स्पिनरों का दबदबा रहा और विकेट धीमा था और विकेट में वैसी ही तेजी थी जैसी हमें भारत में मिलती है. इस तरह की परिस्थितियां स्वदेश में तैयार करना मुश्किल है.’’

हेसन को उम्मीद है कि मिशेल सैंटनर और ईश सोढ़ी जैसे न्यूजीलैंड के स्पिनर ‘कूकाबूरा’ से ‘एसजी टेस्ट’ गेंदों से सामंजस्य बिठाने में सफल रहेंगे. 

उन्होंने कहा, ‘‘विदेशों के कई स्पिनर इन परिस्थितियों में सफल रहे हैं. हमारा स्पिन ग्रुप युवा है और उनके लिये कूकाबुरा से दूसरी तरह की गेंद एसजी टेस्ट से सामंजस्य बिठाना चुनौती होगी.

First published: 14 September 2016, 15:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी