Home » खेल » Tokyo Olympics 2020: Gold medalist Neeraj Chopra said PM Modi call was a big thing
 

गोल्ड मेडल जीतने के बाद PM मोदी ने किया था फोन, इसे लेकर नीरज चोपड़ा ने कही बड़ी बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 August 2021, 13:33 IST
neeraj chopra (catch news)

Tokyo Olympics 2020: टोक्यो ओलंपिक में नीरज चोपड़ा ने जेवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया. नीरज चोपड़ा ने देश के लिए 13 साल बाद ओलंपिक में गोल्ड मेडल दिलाया. 125 साल के ओलंपिक इतिहास में वह देश के पहले ऐसे खिलाड़ी बने, जिन्होंने ट्रैक एंड फील्ड एथेलेटिक्स में देश को गोल्ड मेडल जिताया.

ओलंपिक से सोने का तमगा लेकर भारत वापस लौटने के बाद नीरज चोपड़ा की जमकर सराहना की जा रही है. पूरे देशभर से उन्हें बधाइयां मिल रही हैं. नीरज चोपड़ा ने देश लौटने के बाद कहा कि वह भारतीय सेना, अपने स्पॉन्सर और फेडरेशन का बहुत धन्यवाद करते हैं, जिन्होंने कोरोना काल में भी उनका कैंप चालू रखा. इसी वजह से वह गोल्ड जीतने में सफल आए.

इस दौरान नीरज चोपड़ा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फोन करके को लेकर कहा कि वह  बहुत बड़ी बात थी. उन्होंने कहा कि जब आप ओलंपिक में खेल रहे हैं और देश के प्रधानमंत्री का फोन आता है तो यह बड़ी बात होती है. पीएम मोदी ने सिर्फ उन्हें ही नहीं बल्कि सभी खिलाड़ियों से बात की. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का खिलाड़ियों को सपोर्ट करना बड़ी बात है.

बता दें कि आज बीजेपी संसदीय दल की बैठक हुई. इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओलंपिक खेलों में शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों के सम्मान में खड़े होकर ताली बजायी. प्रधानमंत्री ने इस दौरान सभी सांसदों से खेल तथा खिलाड़ियों पर विशेष ध्यान देने की बात कही. उन्होंने कहा कि यह एक साल की मेहनत से नहीं हुआ है, इसके पीछे खिलाड़ियों की सालों की मेहनत हैं.

बता दें कि नीरज चोपड़ा ओलिंपिक में इंडिविजुअल स्पोर्ट में गोल्ड जीतने वाले भारतीय शूटर अभिनव बिंद्रा के बाद देश के दूसरे खिलाड़ी हैं. नीरज के गोल्ड जीतने के साथ भारत ने ओलंपिक का अपना सबसे बेस्ट प्रदर्शन किया. टोक्यो ओलंपिक में भारत का यह ओवरऑल 7वां मेडल था. भारत ने लंदन ओलिंपिक 2012 में 6 मेडल जीता था. 

नीरज चोपड़ा के कोच 104.8 मीटर भाला फेंक कर बना चुके हैं वर्ल्ड रिकॉर्ड, 100 मीटर भी नहीं फेंक सका है कोई

नीरज चोपड़ा गोल्ड जीतने के बाद भी नहीं थे आखिरी थ्रो से खुश, कहा- अधूरी रह गई एक ख्वाहिश

First published: 10 August 2021, 13:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी