Home » खेल » Tokyo Olympics: Ravi Kumar, who won silver medal for the country, Haryana govt give four crore rupees
 

ओलंपिक में देश को सिल्‍वर मेडल दिलाने वाले रवि कुमार पर ईनामों की बौछार, हरियाणा सरकार देगी चार करोड़ रुपये

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 August 2021, 9:52 IST
ravi kumar (catch news)

Tokyo Olympics 2020: टोक्यो ओलंपिक में देश का सिर गर्व से ऊंचा कर सिल्वर मेडल जीतने वाले रेसलर रवि दहिया पर ईनामों की बौछार हो गई है. रवि दहिया को पुरुषों के फ्री स्टाइल 57 किलो रेसलिंग स्पर्धा के फाइनल में रूस ओलिंपिक कमिटी के रेसलर जवुर उगुवेय से भले ही 4-7 से हार का सामना करना पड़ा हो, लेकिन उन्होंने देश के लिए सिल्वर मेडल जीतने में कामयाबी हासिल की थी.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश की खेल नीति के अनुसार, रवि दहिया को सिल्‍वर जीतने पर 4 करोड़ रुपये की नकद राशि देने का ऐलान किया है. इसके अलावा उन्हें क्लास वन की नौकरी और रियायती दर पर हुड्डा का प्लॉट मिलेगा. हरियाणा की सरकार रवि दहिया के गांव नाहरी में आधुनिक सुविधाओं से लैस इंडोर रेसलिंग स्टेडियम भी बनवाएगी.

मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि रवि दहिया ने न केवल हरियाणा का दिल जीता है, बल्कि पूरा देश उनकी उपलब्धि से उत्साहित है. उन्होंने कहा कि वह कामना करते हैं कि रवि कुमार सफलता की नई ऊंचाइयां हासिल करें. बता दें कि रवि कुमार ओलंपिक के इतिहास में रेसलिंग में मेडल जीतने वाले पांचवें खिलाड़ी बन गए हैं.

रेसलिंग में अभी तक किसी भारतीय खिलाड़ी ने गोल्ड मेडल नहीं जीता है. भारत के लिए सिर्फ अभिनव बिंद्रा ही ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनके नाम व्यक्तिगत स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीतने का रिकॉर्ड दर्ज है. अभिनव बिंद्रा ने निशानेबाजी में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीता है. वहीं दूसरी तरफ दीपक पूनिया अपने ओलिंपिक पदार्पण में बारीक अंतर से ब्रांज मेडल जीतने से वंचित रह गए.

दीपक पुनिया को 86 किग्रा के प्ले-ऑफ में सैन मरिनो के माइलेस नज्म अमीन ने अंतिम 10 सेकेंड में पटखनी देकर उन्हें हरा दिया. जिससे उनका ओलंपिक मेडल जीतने का सपना टूट गया. 

हारने के बाद जमीन पर बैठकर रोने लगे थे जर्मनी के खिलाड़ी, भारतीय टीम ने किया दिल जीतने वाला काम

Video: भारतीय टीम ने 3-1 से पिछड़ने के बाद ऐसे किया था दनादन गोल, देखकर खड़े हो जाएंगे आपके रोंगटे

First published: 6 August 2021, 9:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी