Home » खेल » world’s oldest living Test cricketer Lindsay Tuckett died
 

दुनिया के सबसे उम्रदराज क्रिकेटर का निधन

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 September 2016, 17:01 IST
(एआरवाईस्पोर्ट्स डॉट टीवी)

दुनिया के सबसे उम्रदराज क्रिकेटर लिंडसे टकेट का सोमवार को ब्लोंफोंटेन में निधन हो गया. लिंडसे टकेट को दुनिया का सबसे बुजुर्ग जीवित क्रिकेटर माना जाता था. टकेट ने दक्षिण अफ्रीका के लिए जून 1947 से मार्च 1949 के बीच 9 टेस्ट मैच खेले थे.

तेज गेंदबाज टकेट ने महज 16 साल की उम्र में अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट करियर की शुरुआत मार्च 1935 में ऑरेंज फ्री स्टेट के लिए खेलते हुए की थी. दूसरे विश्व युद्ध के बाद जब फिर से क्रिकेट शुरू हुआ, तो वह अपनी टीम के खास गेंदबाज बन गए थे. हालांकि इस विश्व युद्ध ने उनके करियर को काफी प्रभावित किया, क्योंकि यह जब शुरू हुआ तो उनकी उम्र महज 20 साल की थी.

क्रिकेटकंट्री डॉट कॉम

1947 में टेस्ट करियर का आगाज

टकेट को पहली बार 1947 में इंग्लैंड दौरे के लिए दक्षिण अफ्रीका की टीम में शामिल किया गया, जहां उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ ट्रेंट ब्रिज में अपने अंतरराष्ट्रीय टेस्ट करियर की शुरुआत की.

टकेट ने 1947 में नाटिंघम के ट्रेंटब्रिज में टेस्ट पदार्पण करते हुए पहली पारी में 37 ओवर में 68 रन देकर पांच विकेट चटकाए, लेकिन चोट की वजह से उनका प्रदर्शन काफी गिर गया. 44.26 की औसत से 5 मैचों की सीरीज में टकेट 15 विकेट ही ले पाए.

उन्होंने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 19 विकेट चटकाए, जिसमें दो बार पारी में पांच विकेट भी शामिल रहे. टकेट ने 1934-35 और 1954-55 सत्र के दौरान प्रथम श्रेणी क्रिकेट के 61 मैचों में 225 विकेट झटके. इस दौरान 1951-52 सत्र में उन्होंने 17.59 की औसत से 32 विकेट लेने का कारनामा भी किया.

टकेट की मृत्यु के बाद अब दुनिया के सबसे उम्रदराज क्रिकेटर दक्षिण अफ्रीका के ही जॉनी वाटकिंस बन गए हैं. ऑलराउंडर रहे जॉनी की उम्र 93 वर्ष है.

First published: 6 September 2016, 17:01 IST
 
अगली कहानी