Home » राज्य » 10th Class girl married off in lieu of rent dues with handicap son of landlord in Hyderabad
 

दसवीं पास लड़की की 38 साल के दिव्यांग से हो रही थी फिल्मी अंदाज में शादी, इसके बाद...

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 May 2018, 17:26 IST

मजबूरी इंसान से क्या-क्या नहीं करा लेती. ऐसी ही कुछ हुआ हैदराबाद में दसवीं क्लास में पढ़ने वाली एक लड़की के साथ. मजबूरी के चलते इस लड़की को 38 साल के एक दिव्यांग से शादी करने के लिए हां करनी पड़ी. क्योंकि लड़की के मां-बाप मकान मालिक को किराए के रुपये नहीं दे पाए थे.

हालांकि पुलिस और बाल कल्याण समिति की टीम ने मौके पर पहुंच कर लड़की की शादी होने से बचा ली और दूल्हा के साथ उसके मां-बाप को भी धर दबोचा. पुलिस ने दिव्यांग व्यक्ति रमेश गुप्ता, उसके पिता चेन्नैया तथा मां पल्ली रामचंद्रम्मा के खिलाफ बाल विवाह एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है.

बता दें कि लड़की का परिवार ओडिशा के बालासोर चार साल पहले हैदराबाद आकर बस गया. लड़की के मां-बाप छोटा-मोटा काम कर किसी तरह परिवार चलाते हैं. लड़की अपने तीन भाई-बहनों में सबसे बड़ी है. इस लड़की ने दसवीं की परीक्षा अच्छे नंबरों से पास कर ली थी. बता दें कि काम न मिलने की वजह से काफी परेशान था छोड़कर कहीं चला गया था. बच्ची की मां के मुताबिक, उसके पास शादी करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था.

कुछ समय से लड़की के माता-पिता काम न मिलने की वजह से मकान मालिक से ही आर्थिक सहायता लेते आ रहे थे. जिसके चलते वे दबाव डाल रहे थे कि वो अपनी बेटी की शादी उनके दिव्यांग बेटे रमेश से कर दें. यही वजह थी कि बच्ची को शादी के लिए हां करनी पड़ी. बता दें कि दिव्यांग रमेश मैकेनिक के तौर पर दुकान चलाता है.

मैलारदेवपल्ली पुलिस थाने के इंस्पेक्टर जगदीश्वर के मुताबिक मकान मालिक अपने बेटे के लिए सहारा चाहता था, और उनकी मांग थी कि या तो बच्ची का विवाह उनके बेटे से करवा दें या बच्ची का परिवार वह रकम लौटाए, जो उन्हें मकान मालिक को चुकानी थी.

ये भी पढ़ें- केन्या में कहर बनकर टूटा बांध, 27 लोगों की मौत, सैकड़ों हुए बेघर

 

 

 

First published: 10 May 2018, 17:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी