Home » राज्य » 3 Soldiers killed during encounter with suspected ULFA terrorists in Tinsukia
 

असम: तिनसुकिया में उल्फा उग्रवादियों के साथ एनकाउंटर, 3 जवान शहीद

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 November 2016, 10:22 IST
(फाइल फोटो)

असम में संदिग्ध उल्फा उग्रवादियों के साथ मुठभेड़ के दौरान सेना के तीन जवान शहीद हो गए हैं. तिनसुकिया जिले के पेंगरी में यह एनकाउंटर चल रहा है.

असम के डीजीपी मुकेश सहाय ने बताया, "तिनसुकिया जिले के पेंगरी में सेना और संदिग्ध उग्रवादियों के बीच मुठभेड़ के दौरान सेना का एक जवान शहीद हो गया, जबकि चार लोग घायल हुए हैं. उग्रवादियों के खिलाफ ऑपरेशन जारी है." 

तिनसुकिया में घात लगाकर आईईडी ब्लास्ट

बताया जा रहा है कि संदिग्ध उल्फा उग्रवादियों ने पेंगरी में सेना के काफिले पर घात लगाकर आईईडी ब्लास्ट किया. धमाके में कई जवान जख्मी हो गए. अब तक ब्लास्ट और मुठभेड़ के दौरान तीन जवान शहीद हो चुके हैं.

तिनसुकिया असम का उग्रवाद प्रभावित जिला है. उल्फा (यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम) यहां लंबे अरसे से सक्रिय है. खास बात यह है कि असम में आज उपचुनाव हो रहे हैं.

राजनाथ ने सोनोवाल से की बात

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने एनकाउंटर में जवानों की शहादत की जानकारी मिलने के बाद असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से बात की है.

राजनाथ सिंह ने कहा, "तिनसुकिया में ब्लास्ट में सेना के जवानों की मौत पर गहरा दुख है. मैं घायल जवानों के जल्द स्वस्थ होने की कामना कर रहा हूं."

साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, "असम के मुख्यमंत्री से मैंने बात की है. उन्होंने मुझे तिनसुकिया में ब्लास्ट के बाद हालात के बारे में जानकारी दी है. गृह मंत्रालय की वहां के हालात पर पैनी नजर है."

असम में आज उपचुनाव

मुठभेड़ में घायल जवानों को नजदीकी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. मुठभेड़ में अभी किसी आतंकी के मारे जाने की खबर नहीं है. सेना का काफिला गुजरते वक्त अचानक आईईडी ब्लास्ट होने से जवान घायल हो गए.

गौरतलब है कि असम की लखीमपुर लोकसभा सीट पर आज मतदान हो रहा है. मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने ये सीट खाली की थी. इसके अलावा बैठालांसो विधानसभा क्षेत्र में भी वोटिंग चल रही है.

First published: 19 November 2016, 10:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी