Home » राज्य » Assam Police arrested 200 members of Krishak Mukti Sangram Samiti, they were protesting, against Citizenship (Amendment) Bill,
 

नागरिकता कानून का विरोध कर रहे 200 से ज्यादा लोगों को असम पुलिस ने किया गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 May 2018, 12:40 IST

आसाम पुलिस ने गुवाहाटी में कृषक मुक्ति संग्राम समिति के लगभग 200 सदस्यों को गिरफ्तार कर किया है. ये लोग नागरिकता (संशोधन) विधेयक के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे. इन लोगों को बैठक स्थल के पास से गिरफ्तार किया गया है. ख़बरों के अनुसार इस बैठक में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी भाग ले रहे हैं. गौरतलब है कि नागरिकता लेने के मौजूदा कानून में मोदी सरकार संसोधन कर न चाहती है, लेकिन राज्य में बड़ी संख्या में इसका विरोध हो रहा है.

नागरिकता (संशोधन) विधेयक में बदलाव कर मोदी सरकार ने अफगानिस्तान, बांग्लादेश, पाकिस्तान के हिंदुओं, सिखों, बौद्धों, जैन, पारसियों और ईसाइयों को बिना वैध दस्तावेज़ के भारतीय नागरिकता देने का प्रस्ताव रखा है. इस संशोधन के बाद शरणार्थी 6 साल बाद ही भारतीय नागरिकता के लिए आवेदन कर सकते हैं.

 

असम के कई संगठनों ने इस विधेयक का विरोध किया है. इनका दावा है कि यह 1985 के ऐतिहासिक ‘असम समझौते’ के प्रावधानों का उल्लंघन है. असम में इस बिल को लेकर हो रहे आंदोलन की अगुआई वहां की बीजेपी सरकार में सहयोगी असम गण परिषद कर रही है.

ख़बरों के अनुसार असम में इस बिल का बड़ा विरोध हो रहा है, जिसके बाद खुद मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनवाल घिरते नजर आ रहे हैं. राज्य में बीजेपी की सहयोगी असम गण परिषद ने बिल के विरोध में सरकार से हटने की धमकी दे दी है.

ये भी पढ़ें : गुजरात: खुद को कल्कि अवतार बताने वाला अफसर बोला- महाभारत में भी लोग मुझ पर हंसते थे

First published: 20 May 2018, 12:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी