Home » राज्य » band by Gorkha Janmukti Morcha: protesters baton charged by police in Darjeeling.
 

गोरखालैंड पर गदर: दार्जिलिंग बंद के दौरान GJM कार्यकर्ताओं पर पुलिस का लाठीचार्ज

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 June 2017, 13:01 IST

अलग गोरखालैंड और बांग्ला भाषा के ख़िलाफ़ गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (GJM) का आंदोलन मंगलवार को भी जारी है. मंगलवार को दार्जिलिंग और उसके आस-पास के इलाकों में जीजेएम के आंदोलन ने हिंसक रूप ले लिया है.

दरअसल गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के समर्थक दार्जिलिंग के स्कूलों में बांग्‍ला भाषा की पढ़ाई को अनिवार्य किए जाने का विरोध कर रहे हैं. पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार ने हाल ही में ये फैसला लिया था. इसके बाद से यहां के पहाड़ी इलाकों में आंदोलन शुरू हो गया. 

कई जगहों पर आगजनी-तोड़फोड़

मंगलवार को जीजेएम समर्थकों ने पुलिस बैरिकेड्स तोड़े और कई जगह उनकी पुलिस के साथ झड़प की खबरें हैं. पुलिस ने भी प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के लिए दार्जलिंग में लाठीचार्ज किया.

स्थानीय मीडिया के अनुसार बंगाल सरकार के विरोध में जीजेएम समर्थकों ने सड़कों पर नारे लगाए. विरोध ने कई जगहों पर हिंसक रूप अख्तियार कर लिया है. कुछ इलाकों से आगजनी और तोड़फोड़ की घटनाएं सामने आई हैं. 

BDO ऑफिस जलाने का आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने मंगलवार सुबह ही गोरखालैंड टेरिटोरियल एडमिनिस्ट्रेशन के सतीश पोखरेल को बीजनबारी बीडीओ ऑफिस जलाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है.

गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (जीजेएम) समर्थकों की पुलिस के साथ भिड़ंत के बाद दार्जिलिंग में सेना को तैनात करना पड़ा है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी मोर्चे पर डटे रहने की अपनी घोषणा कर दी है. दार्जिलिंग में 43 साल बाद ममता जब राजभवन में कैबिनेट बैठक कर रही थीं, उस वक्त राजभवन से कुछ दूर पर ही बम फेंके गए थे.

First published: 13 June 2017, 12:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी