Home » राज्य » Black ink thrown at Nehru statue at Katwa in West Bengal after Periyar, BR Ambedkar, Lenin statue vandalised
 

अब बंगाल में नेहरू की मूर्ति को बनाया गया निशाना, देश में कब रुकेगा ये सिलसिला

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 March 2018, 14:58 IST

त्रिपुरा से महानायकों की मूर्ति तोड़ने का सिलसिला पूरे देश में फैल गया है. पूरब से दक्षिण तक देश और दुनिया के कई महानायकों की मूर्तियों से छेड़छाड़ और तोड़फोड़ की गई. ताजा घटना पश्चिम बंगाल की हैै.

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक में बंगाल में बर्धमान जिले के काटवा टेलीफोन मैदान में देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की मूर्ति पर कुछ अज्ञात लोगों ने काली स्याही फेंकी. अभी तक इस घटना के पीछे किसका हाथ है पता नहीं चल पाया है. वारदात की खबर मिलने के बाद पुलिस ने इस घटना की जांच शुरू कर दी है. 

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार की रात को नेहरु की मूर्ति पर काली स्याही फेंकी गई. सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची. नेहरु की मूर्ति से बाद में काली स्याही हटा दी गई. गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में इससे पहले जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की मूर्ति से भी छेड़छाड़ की गई थी. इसका भाजपा ने कड़ा विरोध जताते हुए राज्य में ममता की अगुवाई में चल रही टीएमसी सरकार पर निशाना साधा. इसके बाद ममता ने इस घटना की निंदा भी की थी.

ये भी पढ़ें- लेनिन के बाद श्यामा प्रसाद मुखर्जी की मूर्ति को बनाया गया निशाना, 6 लोग हिरासत में

 

गौरतलब है कि देश भर में महानायकों की मूर्तियां तोड़े जाने की खबरों के बाद पीएम मोदी ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से  मुलाकात की थी. इस मुलाकात में उन्होंने इन घटनाओं पर कड़ी नाराजगी जताई थी. पीएम मोदी ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह से कहा था कि वो राज्यों को इसके संबंध में दिशानिर्देश दें. इसके बाद राजनाथ सिंह ने राज्यों को इस पर रोक लगाने के लिए दिशा निर्देश दिए गए. पर इसका खास असर होता नहीं दिख रहा है.

त्रिपुरा से हुई थी शुरुआत-

हाल ही में हुए पूर्वोत्तर के तीन राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद ये सिलसिला शुरू हुआ. लेफ्ट का गढ़ कहे जाने वाले त्रिपुरा में भाजपा की ऐतिहासिक जीत के बाद कुछ कार्यकर्ताओं ने लेनिन की मूर्ति को जेसीबी की मदद से गिरा दिया था.

इसके बाद तमिलनाडु में पेरियार, पश्चिम बंगाल में श्यामा प्रसाद मुखर्जी और केरल के कन्नूर में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की ,उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड में अंबेडकर की मूर्ति तोड़ी गई थी. 

ये भी पढें- त्रिपुरा में लेनिन की मूर्ति पर चला बीजेपी समर्थकों का बुलडोजर

First published: 17 March 2018, 14:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी