Home » राज्य » Brother and Sister Die trying to save drowning pet Dog in Cauvery River Tamilnadu
 

भाई-बहन ने अपनी जान देकर कुत्ते को दिया जीवनदान

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 April 2018, 9:54 IST
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

पालतू जानवरों को अपने मालिक की जान बचाने वाली कई कहानियां आपने सुनी होंगी, लेकिन तमिलनाडु इसके बिल्कुल उलट नजारा देखने को मिला. जहां एक भाई-बहन की जान अपने पालतू कुत्ते को बचाते वक्त चली गई. पूरी घटना तमिलनाडु के इरोड में रविवार को घटी.

जहां अपने पालतू कुत्ते को नदी में डूबने से बचाने में भाई-बहन की मौत हो गई. दरअसल दोनों भाई-बहन कांगेयमपालयम में कावेरी नदी के बीच स्थित भगवान नटरेश्वरन (भगवान शिव) के मंदिर गए थे. पूजा करने से पहले दोनों नदी में स्नान कर रहे थे. उसी दौरान दोनों ने अपने पालतू कुत्ते को पानी में बहते हुए देखा. कुत्ते को देखते ही दोनों उसे बचाने के लिए दौड़ पड़े.

पुलिस के मुताबित दोनों भाई-बहनों ने अपने कुत्ते को किसी तरह नदी किनारे धकेल कर उसकी जान बचा ली, लेकिन कुत्ते को बचाने के चक्कर में दोनों गहरे पानी में चले गए. इस वजह से दोनों नदी में डूब गए और उनकी मौत हो गई. हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई. दोनों भाई-बहनों के शव को सोमवार को नदी से बरामद किया गया. पुलिस के मुताबिक भाई की उम्र 20 साल और बहन की उम्र 25 साल थी.

बता दें कि भगवान शिव का नटरेश्वरन मंदिर प्राचीन काल है. इस मंदिर को करीब 3000 साल पहले चोल राजाओं ने बनवाया था. ये मंदिर तमिलनाडु के इरोड शहर के पास कावेरी नदी के बीच एक पहाड़ी द्वीप पर स्थित है. तमिल नव वर्ष के दिन नटरेश्वरन मंदिर में हजारों की संख्या में शिव भक्त पूजा-अर्चना करने पहुंचते हैं.

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान के पूर्व हॉकी खिलाड़ी ने भारत से लगाई मदद की गुहार, कहा- जिंदगीभर एहसानमंद रहूंगा 

First published: 24 April 2018, 9:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी