Home » राज्य » captain's huge surge in Punjab, AAP looses badly
 

पंजाब में पटियाला राज: कांग्रेस को पूर्ण बहुमत, अकाली-आप का सफाया

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 March 2017, 10:03 IST

ज़्यादातर एग्ज़िट पोल को नकारते हुए पंजाब में कांग्रेस पार्टी ने पंजाब में बड़ी जीत हासिल की है. 117 सीटों के चुनाव परिणाम में कांग्रेस को 77 सीटें हासिल हुई हैं. यहां सत्ता की प्रबल दावेदार मानी जा रही आदमी पार्टी 20 सीटों के साथ दूसरे स्थान पर है जबकि सत्ताधारी अकाली-भाजपा गठबंधन 18 सीटों के साथ तीसरे स्थान पर पहुंच गई है. पंजाब अकेला राज्य है जहां जनता ने कांग्रेस को स्पष्ट बहुमत दिया है.

अभी तक हुई गिनती में कांग्रेस पार्टी 64 सीटों पर आगे चल रही है. सत्ता के सिंहासन पर पहुंचने का सपना देखने वाली आम आदमी 27 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर है. सद-भाजपा जो अभी तक यहां सत्ता में थी, वह 23 सीटों पर है. पंजाब में कुल विधानसभा सीटें 117 हैं और किसी पार्टी को बहुमत तक पहुंचने के लिए 59 सीटों की ज़रूरत है.

कांग्रेस पार्टी के संभावित मुख्यमंत्री उम्मीदवार पटियाला विधानसभा सीट पर आगे चल रहे हैं जबकि लंबी में वह पिछड़ गए हैं. लंबी पर सद प्रमुख और राज्य के कद्दावर नेता प्रकाश सिंह बादल आगे चल रहे हैं. आम आदमी पार्टी के स्टार प्रचारक भगवंत मान जो कि चुनावी रैलियों में ज़बरदस्त भीड़ जुटा रहे थे, वह जलालाबाद में तीसरे नंबर पर पहुंच गए हैं. इस सीट पर सद के सुखबीर सिंह बादल पहले नंबर पर हैं. वहीं मजीठा में सद नेता विक्रम सिंह मजीठिया लीड कर रहे हैं.

पंजाब में माना जा रहा था कि इस बार शिरोमणि अकाली दल सत्ता से बेदख़ल हो जाएगी. पूरे राज्य में सत्ता विरोधी लहर चल रही थी. इस नज़रिए से पंजाब चुनाव के आ रहे नतीजे अप्रत्याशित कतई नहीं हैं. कांग्रेस के लिए यह जीत इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि 2014 में हुए आम चुनाव के बाद पहली बार किसी राज्य में कांग्रेस ने पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई है. 

 

आम आदमी पार्टी के लिए ज़रूर यह झटका माना जाना चाहिए क्योंकि वह बार-बार बहुमत हासिल करने का दावा कर रही थी. यहां तक कि एग्ज़िट पोल आने के बाद भी आप का मानना था कि चुनावी नतीजे कुछ और होंगे.

 

 

 

 

First published: 11 March 2017, 11:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी