Home » राज्य » cm chandrababu naidu likely to snap ties with nda two tdp ministers quit modi cabinet
 

मोदी सरकार को लग सकता है बड़ा झटका, NDA छोड़ने की तैयारी में ये पार्टी

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 March 2018, 12:16 IST

तेलगु देशम पार्टी (टीडीपी) ने आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के लिए बगावत शुरु कर दी है. टीडीपी नेता और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने एनडीए से अलग होने के संकेत दिए हैं. बताया जा रहा है कि उन्होंने मोदी सरकार में शामिल टीडीपी के दो मंत्रियों को इस्तीफा देने के लिए तैयार रहने को कहा गया है. बता दें कि केंद्र सरकार के मांग न मानने पर टीडीपी विधायक और एमएलसी बीजेपी से गठबंधन खत्म करने की मांग कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें- त्रिपुरा के बाद अब तमिलनाडु में पेरियार की मूर्ती को बनाया गया निशाना

दो कैबिनेट मंत्री दे सकते हैं इस्तीफा 

टीडीपी नेताओं का कहना है कि अगर केंद्र सरकार हमारी शर्तें नहीं मानती है तो वह एनडीए गठबंधन से नाता तोड़ लेंगे. बता दें कि केंद्र में टीडीपी का एनडीए के साथ गठबंधन है. मोदी सरकार में टीडीपी के दो कैबिनेट मंत्री अशोक गजपति राजू और वाई एस चौधरी है. बताया जा रहा है कि अगर केंद्र ने टीडीपी की मांग नहीं मानी तो ये दोनों मंत्री इस्तीफा दे सकते हैं.

 

टीडीपी की बैठक में हुआ गठबंधन से अलग होने का फैसला 

सूत्रों के मुताबिक मंगलवार को टी़डीपी के विधायकों और एमएलसी ने बैठक की थी. इस बैठक में पार्टी नेताओं ने मांग न मानने पर एनडीए गठबंधन से अलग होने की मांग की. इस बैठक में 125 विधायक और 34 एमएलसी शामिल हुए थे. इसके चलते आंध्र प्रदेश के सीएम सीएम चंद्र बाबू नायडू एनडीए से अलग होने का फैसला ले सकते हैं.

टीडीपी की मांग मानने को तैयार नहीं केंद्र सरकार

केंद्र सरकार भले ही आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने के लिए तैयार नहीं है, लेकिन आंध्र प्रदेश के विकास के लिए आर्थिक सहायता देने के साथ ही विजयवाडा और विशाखापट्टनम के लिए मेट्रो रेल प्रोजेक्ट को भी मंजूरी देने को तैयार है. वहीं टीडीपी की मांग है कि मोदी सरकार उस वादे को पूरा करे जो आंध्र प्रदेश के विभाजन के दौरान तत्कालीन सरकार ने किया था. लेकिन मोदी सरकार किसी भी कीमत पर टीडीपी की मांगों के सामने झुकने को तैयार नहीं है.

First published: 7 March 2018, 12:16 IST
 
अगली कहानी