Home » राज्य » ED seizes Rs 93 lakh in new currency from 7 middlemen in Karnataka
 

15 दिन में 225 करोड़ से ज्यादा काला धन जब्त, कर्नाटक में 93 लाख के नए नोट बरामद

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 December 2016, 10:29 IST
(सांकेतिक तस्वीर)

नोटबंदी के बाद से दक्षिण भारत में नए नोट मिलने का सिलसिला जारी है. कर्नाटक और तमिलनाडु में लगातार कैश बरामद हो रहा है.   

कर्नाटक में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 93 लाख के नए नोट जब्त किए हैं. कार्रवाई के दौरान ईडी ने सात दलालों को गिरफ्तार किया है.

ईडी को जानकारी मिली थी कि कुछ लोग पुराने नोटों को नए नोटों पर बदलने का गोरखधंधा कर रहे हैं. जिसके बाद ईडी के अफसर बोगस ग्राहक बनकर दलालों के पास पहुंचे. 

ईडी ने सात दलालों को दबोचा

जब पुराने नोटों को नए नोटों में बदलने की डील तय हो गई, इसके बाद सातों दलालों को नकदी के साथ दबोच लिया गया. बताया जा रहा है कि पकड़े गए दलाल 15 से 35 फीसदी कमीशन लेकर पुराने नोटों को नए नोटों में बदलते थे.

ईडी अब इतनी बड़ी रकम दलालों के पास आने के पीछे बैंक अधिकारियों की मिलीभगत को लेकर भी जांच कर रही है. 

227 करोड़ से ज्यादा ब्लैक मनी जब्त

पिछले 15 दिनों के दौरान आयकर विभाग की छापेमारी में 227 करोड़ से ज्यादा काला धन बरामद हो चुका है. चेन्नई में शेखर रेड्डी नाम के खनन कारोबारी के ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापा मारकर 93 करोड़ रुपये की रकम बरामद की थी. जिसमें से 70 करोड़ रुपये के दो हजार के नोट थे.

इसके अलावा 100 किलो से ज्यादा सोना भी बरामद हुआ था. इस मामले में नाम सामने आने के बाद आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने शेखर रेड्डी की तिरुमला तिरुपति देवस्थानम के ट्रस्ट मेंबर की सदस्यता रद्द कर दी थी.

इसके अलावा पिछले हफ्ते दिल्ली में एक लॉ फर्म पर छापे में साढ़े 13 करोड़ की नकदी जब्त हुई थी. ग्रेटर कैलाश इलाके में टी एंड टी नाम की लॉ फर्म पर यह छापा मारा गया था. फर्म के मालिक रोहित टंडन से आयकर विभाग पूछताछ में जुटा है.    

First published: 13 December 2016, 10:29 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी