Home » राज्य » DIG Roopa transfers to road safety and traffic for 'exposing VIP treatment' to Sasikala in centre jail of Bengaluru.
 

जेल में शशिकला के खेल का ख़ुलासा करने वाली DIG के ख़िलाफ़ एक्शन

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 July 2017, 15:34 IST
(file photo)

बेंगलुरु की केंद्रीय जेल में बंद एआईएडीएमके प्रमुख शशिकला को मिल रहे वीवीआईपी ट्रीटमेंट का पर्दाफाश करने वाली डीआईजी रूपा का ट्रांसफर हो गया है. सोमवार को कर्नाटक सरकार की ओर जारी एक आदेश में साफ कर दिया गया है कि रूपा का ट्रांसफर तत्काल प्रभाव से किया जा रहा है. डीआईजी रूपा को उनके सख्त रवैये के लिए जाना जाता है. 

DIG रूपा के अलावा जेल डीजी सत्यनारायण राव का भी ट्रांसफर कर दिया गया है. डीआईजी रूपा ने शशिकला के वीवीआईपी ट्रीटमेंट की रिपोर्ट सत्यनारायण राव को ही सौंपी थी. तमिलनाडु की दिवंगत सीएम जयललिता की जेल में बंद सहयोगी शशिकला नटराजन उस समय नई मुसीबत में फंस गई, जब उन पर जेल में अपने लिए स्पेशल किचन बनवाने के लिए दो करोड़ रुपये की रिश्वत देने के आरोप लगे.

डीआईजी जेल रूपा ने अपने सीनियर डीजीपी जेल को चिट्ठी लिखकर इस स्पेशल किचन की जानकारी दी थी. रूपा ने अपनी इस रिपोर्ट में लिखा था कि, "अधिकारियों का कहना है कि डीजीपी की जानकारी के बावजूद ऐसा हो रहा है और स्पेशल किचन के लिए दो करोड़ रुपये की डील हुई है. इस डील में ख़ुद डीजीपी भी शामिल हैं."

10 जुलाई को केंद्रीय कारागार का निरीक्षण करने के बाद डीआईजी रूपा ने डीजीपी को ये चिट्ठी लिखी. डीआईजी रूपा ने कुछ सप्‍ताह पहले ही जेल विभाग में डीआईजी के रूप में ज्‍वाइन किया था और उन्‍होंने 10 जुलाई को सेंट्रल जेल का गहन निरीक्षण किया था.

शशिकला को मिली है चार साल की सज़ा

एआईएडीएमके सुप्रीमो शशिकला को आय से अधिक संपत्ति मामले में चार साल की सजा मिली है. शशिकला बेंगलुरु की सेंट्रल जेल में बंद है. इससे पहले शशिकला और जेल प्रशासन विवाद में तब आ गए थे, जब एक आरटीआई कार्यकर्ता को आरटीआई से जानकारी मिली कि एक महीने में शशिकला से 14 मौक़ों पर 28 लोगों ने बेंगलुरु सेंट्रल जेल में मुलाक़ात की.

आरटीआई कार्यकर्ता नरसिम्हा मूर्ति ने इस पर आपत्ति जताते हुए इसे जेल मैनुअल का उल्‍लंघन बताया था. इस आरटीआई कर्यकर्ता के विरोध के बाद परपनाग्रहारा यानी बेंगलुरु सेंट्रल जेल प्रशासन ने सफाई दी.

First published: 17 July 2017, 15:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी