Home » राज्य » Goa taxi owners refuse CM Pramod Sawant’s proposal to join app-based service GoaMiles
 

गोवा में नहीं चल पायेगी App वाली कैब, टैक्सी मालिकों ने ठुकराई CM की मांग

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 August 2019, 15:20 IST

गोवा में टैक्सी मालिकों के एक संघ ने ऐप आधारित टैक्सी सेवा की मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत की अपील को खारिज कर दिया है. पर्यटकों से लिए जा रहे उच्च किराए और अनियमित सेवा की शिकायत के बाद राज्य के पर्यटन विभाग ने ऐप को विकसित करने के लिए गोवामाइल कंपनी के साथ हाथ मिलाया था. एसोसिएशन ऑफ टूरिस्ट टैक्सी ओनर्स ऑफ गोवा ने गुरुवार को विधानसभा में सावंत से मुलाकात की और तीन महीने तक ऐप के साथ पंजीकरण करने के उनके अनुरोध को ठुकरा दिया.

टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार टैक्सी एसोसिएशन के अध्यक्ष चेतन कामत ने कहा, '' हमारी एक मांग है, हम चाहते हैं कि गोवामाइल्स को खत्म कर दिया जाए और आगे का रास्ता  सदस्यों के साथ चर्चा के बाद तय किया जाना चाहिए. कामत ने कहा, "हमारे पास लगभग 30,000 टैक्सियां हैं जबकि गोवामाइल्स के पास सिर्फ 300 हैं. उन्हें हमारी सेवा का अनुभव करने के लिए हमसे जुड़ने दें,"

 

एसोसिएशन के एक अज्ञात सदस्य ने अख़बार द टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि वे पिछले छह महीनों से अधिकारियों के साथ बैठकें कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि सरकार को शुरू से ही स्पष्ट कर देना चाहिए कि वे टैक्सी ऑपरेटरों की मांग से सहमत नहीं हैं.

इससे पहले सावंत ने कहा था कि गोवामाइल्स पूरी तरह से कानूनी सेवा थी और कंपनी ने राज्य सरकार को गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स के रूप में 70 लाख रुपये का भुगतान किया था. मुख्यमंत्री ने कहा, "गोवा माइल्स ने राज्य सरकार को जीएसटी के रूप में न्यूनतम 18 लाख रुपये सालाना का भुगतान करने का आश्वासन दिया है."

आतंकवाद विरोधी बिल UAPA राज्यसभा में भी पास, पक्ष में पड़े 147 वोट

 

First published: 2 August 2019, 15:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी