Home » राज्य » Hriday Narayan Dixit elected as UP VidhanSabha Speaker, CM Yogi Adityanath Congratulated
 

हृदय नारायण दीक्षित बने विधानसभा अध्यक्ष, सीएम योगी का सदन में पहला संबोधन

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 March 2017, 19:40 IST
(एएनआई)

उत्तर प्रदेश विधानसभा का अध्यक्ष के रूप में बृहस्पतिवार को भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता हृदय नारायण दीक्षित को चुना गया. लखनऊ स्थित विधानभवन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्हें अध्यक्ष चुने जाने पर बधाई दी और वहां मौजूद विधायकों से भी मुलाकात की.

हृदय नारायण दीक्षित जिला उन्नाव के भगवंतनगर से भारतीय जनता पार्टी के विधायक हैं. बुधवार को उन्होंने नाम तय होने के बाद नामांकन किया था. उनके नामांकन के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत भाजपा के तमाम विधायक और मंत्री भी मौजूद थे.

वहीं, बृहस्पतिवार को विधानसभा में अपने पहले संबोधन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सत्ता और विपक्ष को साथ मिलकर काम करना होगा, हमें जनता की उम्मीदों पर खरा उतरना है. इस दौरान योगी आदित्यनाथ विधानसभा के नेता भी चुने गए.

आदित्यनाथ ने दीक्षित के लेखन की सराहना की और उसे प्रेरणादायक बताते हुए कहा कि ह्रदय नारायण दीक्षित के लेखन से वे काफी प्रभावित हैं. उन्होंने विपक्ष से अपील की कि जिस तरह विधानसभा के अध्यक्ष पद पर हृदयनारायण दीक्षित का सर्वसम्मति से निर्वाचन हुआ है, ठीक उसी तरह प्रदेश के विकास के लिए सभी पार्टियां सदन के अंदर मिलकर काम करें.

 

योगी ने आगे कहा कि चुनाव प्रचार के दौरान भले ही पार्टियों के बीच चुनावी मंचों से एक-दूसरे पर प्रहार किए गए हों लेकिन सदन में सत्ता पक्ष की ओर से विपक्ष के विधायकों के प्रति कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम लोग चुनाव लड़कर आते हैं. चुनावी मंचों पर हम लोग एक-दूसरे पर अनेक प्रकार से प्रहार करते हैं, लेकिन सदन इस प्रकार की बातों से दूर रहकर यूपी की 22 करोड़ जनता के बारे में सोचे.

सत्ता पक्ष और विपक्ष मिलकर कार्य कर सकें, जिस लक्ष्य के लिए जनता ने हमें चुना है हम वो पूरा कर सकें, इस दिशा में मैं ये विश्वास दिलाना चाहता हूं कि विपक्ष के साथ कोई भेदभाव न होने पाए, मेरी सरकार इस दृष्टि से काम करेगी.

First published: 30 March 2017, 19:40 IST
 
अगली कहानी