Home » राज्य » In Bihar-bengal: 18 people died in heavy rain and tempest
 

बिहार-बंगाल में आई तेज़ आंधी और बारिश ने ली 18 की जान

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 May 2017, 17:13 IST
Rain

बिहार और उत्तर बंगाल में मंगलवार की सुबह आये आंधी-तूफान और बारिश से जान-माल को भारी नुकसान पहुंचा है. इस दौरान बिहार में आकाशीय बिजली गिरने के साथ ही दीवार और पेड़ गिरने से हुए हादसों में 18 लोगों की मौत हो गयी. तीन दर्जन से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं. उत्तर बंगाल के कालिम्पोंग के मल्ली में सड़क पर पेड़ गिरने से एक वाहन चालक की मौत हो गयी.

संपत्ति को भी भारी नुकसान पहुंचा है. बिहार आपदा प्रबंधन विभाग ने 15 लोगों की मौत की ही पुष्टि की है. इसके अलावा कई मवेशियों की भी मौत हो गयी. बांका को छोड़ अन्य सभी जिलों में आंधी-तूफान का भारी असर देखा गया. 60-70 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से आयी आंधी के बीच काले बादल और मूसलधार बारिश से पूरी तरह अंधेरा छा गया.

नेशनल हाइवे पर गाड़ियों का परिचालन ठहर-सा गया. ट्रेन सेवा भी बाधित हुई. राज्य के 240 फीडरों का ब्रेक डाउन हो गया, जिसके चलते अधिकतर इलाके में घंटों बिजली आपूर्ति ठप रही. आम और लीची की फसल को भारी क्षति पहुंची है. 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नयी दिल्ली से पटना पहुंचते के बाद आंधी-तूफान से हुए नुकसान को लेकर तुरंत समीक्षा बैठक की. आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने बताया कि आंधी-तूफान से 240 फीडरों का ब्रेक डाउन हो गया. बाद में सभी फीडरों को चालू करा लिया गया.

सिलीगुड़ी सहित पूरे उत्तर बंगाल में झमाझम बारिश और तेज आंधी-तूफान से जन-जीवन पर भारी असर पड़ा है. सिलीगुड़ी में भी सुबह से ही झमाझम बारिश होती रही और करीब एक बजे तक पूरा शहर पानी-पानी हो गया.

इसके अलावा सिलीगुड़ी के निकट बागडोगरा तथा नक्सलबाड़ी आदि इलाके में आंधी एवं तूफान ने तबाही मचायी है. नक्सलबाड़ी से मिली जानकारी के अनुसार यहां के हातीघीसा इलाके में एक कच्चा मकान का दीवार ढह जाने से दो लोग घायल हो गये. दोनों को नक्सलबाड़ी अस्पताल में भरती कराया गया है.

जबकि कालिम्पोंग थाना अंतर्गत मल्ली में सड़क पर पेड़ गिरने से एक वाहन चालक की मौत हो गयी. मृतक का नाम प्राणेश राई बताया गया है. पुलिस द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार, वह कंटेनर गाड़ी लेकर सिक्किम से सिलीगुड़ी की ओर आ रहा था. आंधी-तूफान आने की वजह से उसने सड़क के किनारे गाड़ी खड़ी कर दी. इसी दौरान एक भारी भरकम पेड़ उसकी गाड़ी के अगले हिस्से पर जा गिरा. मौके पर ही उसकी मौत हो गयी.

इस घटना के बाद कई घंटों तक सिलीगुड़ी तथा सिक्किम के बीच वाहनों की आवाजाही बंद रही. घटना की सूचना मिलते ही कालिम्पोंग थाना की पुलिस मौके पर पहुंची और शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पेड़ को काटकर सड़क से हटाया गया. उसके बाद वाहनों की आवाजाही सामान्य हो सकी. उत्तर बंगाल में अन्य स्थानों में आंधी और तूफान से नुकसान की खबर है.

First published: 10 May 2017, 17:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी