Home » राज्य » Jharkhand bans Chhath Puja on the banks of rivers and ponds, read what is written in the order
 

झारखंड सरकार ने नदियों और तालाबों के किनारे छठ पूजा पर लगाई रोक, पढ़िए आदेश में क्या लिखा

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 November 2020, 13:54 IST

Chhath Puja: झारखंड सरकार ने सोमवार को कोरोना वायरस संकट के मद्देनजर,जल निकायों (water bodies) में छठ पूजा पर प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया है. सरकार ने कहा कि अनुष्ठान करते समय दूरी बनाए रखना असंभव था, इसलिए उसने यह आदेश जारी किया है. आदेश के अनुसार ''सार्वजनिक तालाबों, नदियों, झीलों, बांधों, जलाशयों के पानी में छठ पूजा की अनुमति नहीं दी जाएगी." जल निकायों के पास स्टॉल लगाने पर भी प्रतिबंध लगाया गया है पटाखों को फोड़ने की भी अनुमति नहीं है.

इस साल 20 नवंबर को छठ पूजा मनाई जाएगी. इस मौके पर लोग नदियों और झीलों में खड़े होकर अनुष्ठान करते हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार झारखंड में अब तक 1 लाख से अधिक कोरोना वायरस मामले और 924 मौतें हुई हैं. पीटीआई के अनुसार दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस के मामलों में तेज वृद्धि के बीच पिछले सप्ताह मंदिरों और नदी तटों पर छठ पूजा समारोह पर प्रतिबंध लगा दिया था. भारतीय जनता पार्टी ने आदेश की आलोचना की थी और मांग की थी कि लोगों को त्योहार का पालन करने की अनुमति दी जाए.


भारत में सोमवार को 30,548 नए कोरोना वायरस मामले दर्ज किये गए जिससे देश में कुल 88,45,127 मामले हो गए. 435 अधिक मौतों के साथ देश में कुल मौतों की संख्या 1,30,070 हो गई. देश में सक्रिय मामलों की संख्या 4,65,478 थी. भारत में अब तक 82,49,579 लोग इस बीमारी से उबर चुके हैं.

ANI के अनुसार बिहार के मुजफ्फरपुर में छठ पूजा के लिए टोकरी और सूप बनाने वाले अभी तक हुई कम बिक्री से निराश हैं. एक कारीगर ने कहा, "जैसे-जैसे छठ के दिन करीब आ रहे हैं हमें चिंता होने लगी है कि महाजन का पैसा सूद समेत कैसे वापिस करेंगे. बिक्री नहीं हो रही है. 50-60 हज़ार रुपए उधारी लेकर काम पर लगाए हैं."

नीतीश के शपथ समारोह में शामिल होंगे अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, तेजस्वी ने किया इंकार

First published: 16 November 2020, 13:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी