Home » राज्य » Karnataka: Bengaluru Eagleton resort IT raid Gujarat Congress MLA's Arun Jaitley said only minister was searched
 

जेटली की सफ़ाई- कांग्रेस विधायकों पर नहीं, सिर्फ़ एक मंत्री पर IT छापा

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 August 2017, 14:56 IST
राज्यसभा टीवी

कर्नाटक में बेंगलुरु के एक रिजॉर्ट पर कथित आईटी छापेमारी को लेकर संसद में जमकर हंगामा हुआ. राज्यसभा की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस विधायकों ने शोरगुल और हंगामा मचाया. वेल में विपक्षी सदस्यों ने मोदी सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की.

इस मामले में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सफाई दी है. अरुण जेटली ने कहा, "कांग्रेस विधायकों पर छापेमारी नहीं हुई है. सिर्फ कर्नाटक के एक मंत्री डीके शिवकुमार पर आयकर छापा पड़ा है."

जेटली ने सदन को जानकारी दी, "39 ठिकानों पर आयकर विभाग के छापे पड़े हैं. बेंगलुरु के रिजॉर्ट पर कोई छापा नहीं पड़ा है. कर्नाटक के एक मंत्री से पूछताछ हो रही है."

जेटली के बयान के बाद कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा ने सरकार पर हमला बोला. आनंद शर्मा ने छापेमारी की टाइमिंग पर सवाल उठाते हुए कहा कि सत्ता के ग़लत इस्तेमाल का चलन बन गया है.

वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, "पैसे बांटने का आरोप आपकी (भाजपा) पार्टी पर है. जो 15 करोड़ हमारे MLA को दे रहे हैं, उन पर छापा क्यों नहीं पड़ा. हमारे विधायकों को धमकाया जा रहा है."

गुलाम नबी आजाद ने साथ ही आशंका जताई कि ऐसे हालात में गुजरात में स्वतंत्र और निष्पक्ष राज्यसभा चुनाव होना मुश्किल है, लिहाजा इलेक्शन कमीशन को संज्ञान लेने की ज़रूरत है.

खबर है कि आयकर छापे में कर्नाटक के ऊर्जा मंत्री डीके शिवकुमार के दिल्ली स्थित घर से पांच करोड़ रुपये जब्त हुए हैं. वहीं बेंगलुरु के इगलटन रिजॉर्ट में छापेमारी के दौरान कैश नहीं मिला है. गौरतलब है कि इसी रिजॉर्ट में कांग्रेस के 42 विधायक ठहरे हुए हैं.

First published: 2 August 2017, 11:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी