Home » राज्य » Kerala floods: 22 killed due to heavy rain, NDRF teams deployed in Kozhikode,arrivals suspended at Cochin Airport
 

केरल: भारी बारिश के बाद बंद किया गया कोचीन एयरपोर्ट, मुख्यमंत्री ने बुलाई आपात बैठक

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 August 2018, 18:38 IST

केरल में कुदरत ने भारी तबाही मचाई है. अलग-अलग हिस्सों में गुरुवार तड़के भारी बारिश और भूस्खलन के चलते करीब 22 लोगों की मौत हो गई. वहीं कई लोगों के लापता होने की खबर है. राज्य में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं. भयावह स्थिति को देखते हुए कोचीन एयरपोर्ट को बंद करना पड़ा है. इसके साथ ही राहत एवं बचाव की चार टीमों को केरल के लिए रवाना किया गया है. मुख्यमंत्री पिनारई विजयन ने आपात बैठक बुलाई है.

मीडिया खबरों के अनुसार, केरल में आज सुबह से हुई बारिश के चलते बाढ़ जैसे स्थिति पैदा हो गई है. बारिश में और भूस्खलन के चलते करीब 22 लोगों की मौत हो गई. इसमें इडुक्की में भूस्खलन में 10 लोगों, मलप्पुरम में 5, कन्नूर में 2 और वायनाड जिले में 1 की मौत शामिल है. वायनाड, पलक्कड ओर कोझिकोड जिलों में एक-एक व्यक्ति लापता बताया जा रहा है. बारिश की वजह से सड़क से लेकर वायुसेवा सभी प्रभावित हो गई है. सड़कों पर पानी भर गया है. तो वहीं रेलवे ट्रैक पानी में डूब गए हैं. नदियों का जलस्तर भी बढ़ता जा रहा है.

ट्रेन और वायुसेवा बुरी तरह प्रभावित

भारी बारिश के चलते केरल की पेरियार नदी में जलस्तर बढ़ गया था जिसके चलते कोचीन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा लिमिटेड (सीआईएएल) ने विमानों की लैंडिंग रोक दी गई. कोचीन एयरपोर्ट पेरियार नदी के निकट हैं. ऐसे में हवाई अड्डा क्षेत्र के जलमग्न होने की आशंका बढ़ गई. हालांकि दो घंटे बाद लैंडिंग फिर से शुरू कर दी गई है. इसके अलावा बारिश ने रेल सेवा को भी बुरी तरह से प्रभावित किया है. बारिश के चलते कई ट्रेनों के रूट को बदला गया है. वहीं कई ट्रेंनें रद्द कर दी गई है. कई जगह रेलवे ट्रैक क्षतिग्रस्त हो गए हैं. 

हाई अलर्ट पर प्रशासन

भारी बारिश के चलते इदामलयार बांध पानी का स्तर बढ़ गया. जिसके बाद आज सुबह बांध के चार दरवाजों को अतिरिक्त पानी छोड़े जाने के लिए आज सुबह खोल दिया गया. बांध से करीब 600 क्यूसेक पानी छोड़ा गया जिसकी वजह से पेरियार नदी का जल स्तर बढ़ गया. जल स्तर 169.95 मीटर पर पहुंच गया. इडुक्की बांध में आज सुबह आठ बजे तक जल स्तर 2,398 फीट था जो जलाशय के पूर्ण स्तर के मुकाबले 50 फीट अधिक था. प्रशासन को हाई अलर्ट पर रखा गया है. इलाके में स्कूलों की छुट्टी घोषित कर दी है.

First published: 9 August 2018, 18:38 IST
 
अगली कहानी