Home » राज्य » Kerala nun rape case: Accused Jalandhar Bishop hands over charge to junior before joining police investigation
 

केरल नन रेप केस: आरोपी बिशप ने छोड़ा पद, वेटिकन में उठी बर्खास्त करने की मांग

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 September 2018, 14:50 IST
(file photo )

नन रेप मामले में आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने जांच पूरी होने तक अपने पद छोड़ने का फैसला किया है. आरोपी बिशप को 19 सितंबर को पुलिस के सामने पेश होना है. पुलिस ने आरोपी बिशप को पेश होने के लिए कहा है. पुलिस नन रेप मामले की मामले की जांच कर रही है.

आरोपी बिशप ने फ्रैंको मुलक्कल ने अपने पद की जिम्मेदारी को डिप्टी बिशप को सौंप दिया है. वहीं, दूसरी तरफ भारत के चर्च प्रतिनिधियों ने इस मुद्दे पर चर्चा कराने के लिए वेटिकन के नोटिस में लाया गया है. आने वाले दिनों में इस मुद्दे पर हस्तक्षेप होने की उम्मीद की जा रही है.

मीडिया खबरों के मुताबिक, आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने डिप्टी बिशप को अपना पदभार सौंप दिया है. पद छोड़ने से पहले उन्होंने कहा कि मैं सबकुछ भगवान के ऊपर छोड़ कर जा रहा हूं. जब तक मेरे खिलाफ की जा रही जांच पूरी नहीं हो जाती तब तक मैथ्यू कोक्कणम प्रांत के बिशप होंगे. बता दें कि उन्होंने नन से रेप के मामले में खुद को निर्दोष बताया है. आरोपी बिशप का कहना है कि उनको फंसाया जा रहा है.

गौरतलब है कि आरोपी बिशप पर नन ने आरोप लगाया है कि उसका 13 बार यौन उत्पीड़न किया गया. नन ने कोट्टायम जिला पुलिस अधीक्षक को आरोपी बिशप के खिलाफ शिकायत दी है. मामला सामने आने के बाद इसको लेकर राजनीति तेज हो गई. जिसके बाद पुलिस ने मामले में आरोपी बिशप को तलब किया है. पुलिस ने बिशप को पूछताछ के लिए 19 सितंबर को बुलाया है.

बिशप को बुलाने का फैसला एर्नाकुलम क्षेत्र के आईजी साखरे की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में लिया गया था. वहीं भारत के चर्च प्रतिनिधियों ने पत्र लिखकर आरोपी बिशप को पद से हटाने की मांग की गई है. कहा गया है कि चर्च सच्चाई के प्रति आंखें क्यों मूंदे हुए है, जबकि उन्होंने अपनी पीड़ा सार्वजनिक करने का साहस दिखाया है.

ये भी पढ़ें-  केरल नन रेप केस: चर्च ने बिशप पर रेप का आरोप लगाने वाली नन की फोटो कर दी जारी, केस दर्ज

First published: 15 September 2018, 14:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी