Home » राज्य » Kerla women protest against professor derogatory remarks of muslim girls
 

प्रोफेसर के आपत्तिजनक कमेंट पर छात्राओं ने 'तरबूज मार्च' निकालकर जताया विरोध

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 March 2018, 16:46 IST
(File photo)

केरल में एक असिस्टेंट प्रोफेसर के मुस्लिम लड़कियों को लेकर किए आपत्तिजनक कमेंट के बाद हंगामा शुरु हो गया. उसके बाद सैकड़ों छात्राओं ने कॉलेज के बाहर तरबूज मार्च निकालकर विरोध प्रदर्शन किया. लड़कियां हाथों में तरबूज के टुकड़े लेकर प्रोफेसर के खिलाफ नारेबाजी करती रहीं. पुलिस ने किसी तरह छात्राओं के जुलूस को काबू में किया.

मामला केरल के फारूक ट्रेनिंग कॉलेज का है जहां कॉलेज के एक असिस्टेंट प्रोफेसर ने मुस्लिम लड़कियों के हिजाब पहनने पर टिप्पणी की थी. उन्होंने कहा था कि मुस्लिम लड़कियां हिजाब नहीं पहनती हैं और तरबूज के टुकड़े की तरह अपना सीना दिखाती हैं. जो इस्लामिक नियम-कायदों का उल्लंघन करने वाले ड्रेस ही लड़कियां पहन रहीं हैं, जो कि गलत है. ये टिप्पणी उन्होंने मुस्लिम परिवारों की मौजूदगी वाले एक कार्यक्रम के दौरान की थी.

प्रोफेसर ने कार्यक्रम के दौरान यह भी कहा था कि कॉलेज में 80 प्रतिशत लड़कियां पढ़ती हैं, जिनमें ज्यादातर लड़कियां मुस्लिम हैं. मगर मुस्लिम लड़कियां परदे में नहीं रहतीं, लेगिंग को दिखाती हैं. असिस्टेंट प्रोफेसर ने कहा कि महिलाओं का सीना पुरुषों को आकर्षित करता है. इस्लाम में इसे ढंकने की बात कही गई है. इस नाते महिलाएं सिर से लेकर पैर तक खुद को जरूर ढंकें.

बता दें कि असिस्टेंट प्रोफेसर के बयान का वीडियो बनाकर किसी ने सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. जिसके बाद कॉलेज और आसपास की लड़कियां भड़क उठीं और उन्होंने प्रोफेसर की कही बातों का विरोध शुरु कर दिया और विरोध करने के लिए तरबूज जुलूस का सहारा लिया. कॉलेज के प्राचार्य सी ए जवाहर का कहना है कि ये स्पीच तीन महीने पहले कॉलेज परिसर के बाहर दी गई थी. इसलिए कॉलेज कोई कार्रवाई नहीं कर सका. उन्होंने कहा कि हमें इस मामले में कोई शिकायत नहीं मिली है.

First published: 20 March 2018, 16:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी