Home » राज्य » Nagaland: One lakh students will not voting in the Lok Sabha bye-election on May 28
 

नागालैंड : एक लाख से ज्यादा छात्रों ने लोकसभा उपचुनाव में वोट डालने से किया इंकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 May 2018, 14:39 IST

28 मई को नागालैंड में होने वाले लोकसभा उपचुनाव में लगभग एक लाख छात्र मतदान से दूर रहेंगे. एक रिपोर्ट के अनुसार ऑल नागालैंड कॉलेज स्टूडेंट्स यूनियन ने कहा कि वह ये कदम राज्य सरकार द्वारा राज्य में शिक्षा क्षेत्र में सुधार न कर पाने के विरोध में उठा रहे हैं.

ऑल नागालैंड कॉलेज स्टूडेंट्स यूनियन के अध्यक्ष कथो पी अवोमी का कहना है कि इस सम्बन्ध में हम कई बार मुख्यमंत्री को लिखा है और यहां तक कि उनसे मिलने की भी मांग की है, लेकिन उन्होंने अभी तक इस पर कोई सकारात्मक प्रतिक्रिया नहीं दी है.

एनएससीयू अपने 42 संबद्ध कॉलेजों के साथ नागालैंड में होने वाले लोकसभा उप-चुनाव सीटों में भाग लेने से दूर रहेगा. छात्रों का कहना है कि वह वोटिंग के दिन में रैलियों का भी आयोजन करेंगे.

 

छात्रों का आरोप है कि सरकार ने शिक्षा क्षेत्र के लिए कोई नई पॉलिसी नहीं बनाई है और हम इसमें बदलाव की बात कर रहे हैं. छात्रों का आरोप है कि सरकार उनकी अपील को नहीं सुन रही हैं. छात्र संघ ने यह भी मांग की थी कि को अध्यापक मंत्रियों, विधायकों और अन्य अधिकारियों से कथित रूप से जुड़े हैं उन्हें 30 दिनों के भीतर हटा दिया जाए.

उनका कहना है कि शिक्षकों को उनके शिक्षण कर्तव्य स्कूलों का निर्वहन करने के लिए नियुक्त किया जाता है न कि अन्य कामकाज के लिए. छात्रों का यह भी कहना है कि छात्रवृत्ति को व्यवस्थित करने के लिए नोडल सेल विभाग ने उनकी मांग अभी भी पूरी नहीं की है. मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो ने 16 फरवरी को लोकसभा सदस्य के रूप में इस्तीफा दे दिया था जब नागालैंड में उनकी सीट खाली हो जाने के बाद उप-चुनाव होने हैं और 31 मई को इस परिणाम घोषित किया जाएगा.

ये भी पढ़ें : नागरिकता कानून का विरोध कर रहे 200 से ज्यादा लोगों को असम पुलिस ने किया गिरफ्तार

First published: 20 May 2018, 14:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी