Home » राज्य » Nipah Virus Alert in Himachal Pradesh after Deaths of Bats
 

Nipah वायरस: हिमाचल प्रदेश में चमगादड़ों का शव मिलने से मचा हड़कंप, अलर्ट जारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 May 2018, 13:01 IST

निपाह वायरस ने केरल में हड़कंप मचाया है. निपाह की वजह से करीब 11लोगों की जान जा चुकी है. निपाह की आहट अब हिमाचल प्रदेश तक आ पहुंची है. हिमाचल के एक सरकारी स्कूल में चमगादड़ों के कई शव मिलने से हड़कंप मच गया है. जिसे देखते हुए राज्य में अलर्ट जारी कर दिया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, हिमाचल प्रदेश के नाहन में एक सरकारी स्कूल में चमगादड़ों के 20 शव मिले हैं. चमगादड़ों के शव मिलने से लोगों में हड़कंप मच गया. जिसे देखते हुए प्रशासन ने निपाह वायरस को लेकर सावधानी बरतने की सलाह दी है.

चमगादड़ों के शव के सैंपल लिए गए हैं. साथ ही स्कूली बच्चों को भी निपाह वायरस के बारे में जागरूक किया जा रहा है. बता दें कि केरल में निपाह जैसे जानलेवा वायरस से अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है.

पेड़ से मिले चमगदड़ों के शव

चमगादड़ों के शव मिलने की घटना नाहन जिला मुख्यालय के पास स्थित बर्मा पापड़ी स्कूल परिसर की है. यहां एक पेड़ से करीब बीस चमगादड़ों के शव मिले हैं. मामले की सूचना मिलते ही प्रशासन अलर्ट हो गया और एक टीम को तुरंत स्कूल भेजा गया.

टीम ने मृत चमगादड़ों के सैंपल लिए. अब इन सैंपल को जांच के लिए भेजा गया है. इसके बाद डीसी के आदेशों के बाद सहायक आयुक्त एसएस राठौर की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग, पशुपालन विभाग और वन विभाग के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे.

निपाह वायरस की आशंकाओं को किया खारिज

टीम ने स्कूल पहुंच कर लोगों और स्कूली बच्चों को निपाह वायरस से संबंधित जानकारी और बचाव से संबंधित जानकारी दी. लेकिन अधिकारियों ने निपाह वायरस की आशंकाओं को खारिज कर दिया है. बता दें कि चमगादड़ों के शव मिलने से लोगों को ऐसी आशंका है कि इनकी मौत निपाह वायरस की वजह से ही हुई है.

स्कूल की प्रिंसिपल सुपर्णा भारद्वाज के मुताबिक, इस मौसम में यहां अक्सर चमगादड़ आते हैं, लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है जब इतनी बड़ी संख्या में इनकी मौत हुई हो. उन्होंने कहा कि निपाह वायरस की आशंका को देखते हुए स्कूल प्रबंधन पूरी तरह से अलर्ट है.

कैसे फैलता है निपाह वायरस और क्या हैं लक्षण

बताया जा रहा है कि निपाह वायरस चमगादड़ से फैलता है. चमगादड़ जब फलों में दांत मारते हैं तो वो फल संक्रमित हो जाते हैं. इन संक्रमित फलों को खाने से इंसान चपेट में आ सकते हैं. संक्रमित व्यक्ति के जरिए ये बाकी इंसानों में फैल सकता है. इसी तरह चमगादड़ों के संपर्क में आने से ये सुअरों में फैलता है और फिर सुअरों के नजदीक रहने वाले या सुअरों का मांस खाने वालों में ये निपाह वायरस फैल सकता है.

ये हैं निपाह वायरस के लक्षण

निपाह वायरस के लक्षणों में अचानक से तेज बुखार, सिरदर्द, बदन दर्द, उल्टियां, गर्दन का जकड़ना, रोशनी से दिक्कत होना आदि शामिल है. बता दें कि निपाह वायरस से पीड़ित इंसान 48 घंटों के अंदर कोमा में जा सकता है.

ये भी पढ़ें- PM मोदी ने कबूल किया कोहली का 'विराट' चैलेंज, कहा- जल्द शेयर करूंगा वीडियो

First published: 24 May 2018, 9:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी