Home » राज्य » 'No help from the Center, if required, I am ready to be part of' Third Front '
 

'केंद्र ने नहीं की कोई मदद, जरूरत पड़ी तो 'थर्ड फ्रंट' का हिस्सा बनने को तैयार हूँ'

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 March 2018, 15:29 IST

केंद्र की मोदी सरकार पर राज्य के साथ सहयोग न करने के मामले में तेलंगाना के. सीएम के चंद्रशेखर राव ने एक बड़ा बयान दिया. चंद्रशेखर राव ने शनिवार को संकेत दिया कि यदि आवश्यकता पड़ी तो वह थर्ड फ्रंट का हिंसा बनने को तैयार हैं. बदलाव की जरूरत बताते हुए मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने कहा कि वह अन्य पार्टियों से बात कर रहे हैं और यदि उनके स्वास्थ्य ने अनुमति दी तो वह राष्ट्रीय परिदृश्य में यह कदम उठाएंगे.

राव ने कहा, देश में बदलाव की जरूरत है. तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के सांसदों के साथ संसदीय बैठक के बाद शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने सवाल किया कि कब तक हम कहानियां सुनाते रहेंगे कि अमेरिका और चीन में बदलाव हो रहे हैं. राव ने कहा कि आंध्रप्रदेश पुनर्गठन अधिनियम 2014 में राज्य से किये गए वादे पूरे नहीं हुए हैं.

ये भी पढ़ें : गाज़ियाबाद : होली खेलने के बाद बाथरूम में मिली दम्पति की लाश, पुलिस के लिए बनी पहेली

 

नहीं मिली उत्तराखंड जैसी मदद 

राव ने विशेष रूप से उद्योगों के लिए विशेष प्रोत्साहनों का उल्लेख किया, जैसे उत्तराखंड जैसे राज्यों को दिया गया.उन्होंने कहा कि तेलंगाना को ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज और इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट जैसे संस्थान स्थापित करने के लिए कोई भी धन नहीं दिया गया है.

बता दें कि बीजेपी की राज्य इकाई ने कुछ दिन पहले के. चंद्रशेखर राव पर पीएम मोदी का अपमान करने का आरोप लगाया था. लेकिन राव ने इससे पूरी तरह से इंकार किया है कि उन्होंने ऐसा कोई बयान नहीं दिया.

राव ने कहा, ''मेरे पास मोदी के खिलाफ कुछ नहीं है और मैं उनका सम्मान करता हूं. ध्यान देने योग्य बात यह है कि मैं उनका सबसे अच्छा दोस्त हूं''. राव ने कहा ''मैं भाजपा के खिलाफ नहीं हूँ लेकिन देश में हो रहा धीमी गति का विकास संतोषजनक नहीं है. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार राज्य में 50% आरक्षण कैप बढ़ाने का मुद्दा उठाएगी.

First published: 4 March 2018, 15:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी