Home » राज्य » Odisha: Curfew imposed in Bhadrak after protests broke out following a derogatory Facebook post against Lord Ram
 

ओडिशा: भद्रक में फेसबुक पोस्ट पर भड़की सांप्रदायिक हिंसा, कर्फ्यू लगा

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 April 2017, 14:05 IST
(एएनआई)

ओडिशा में हिंदुओं के आराध्य राम पर कथित आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद भद्रक शहर में सांप्रदायिक हिंसा भड़क गई है. बताया जा रहा है कि सोशल मीडिया पर राम और सीता के बारे में कथित रूप से टिप्पणी के बाद भद्रक में तनाव के हालात हैं. 

पहले शहर में धारा 144 लगाई गई, लेकिन हालात काबू में नहीं आने पर शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है. जिला प्रशासन ने एहतियातन स्कूल-कॉलेजों को बुधवार तक के लिए बंद कर दिया गया है. एसपी दिलीप कुमार दास ने कहा है कि पुलिस ने हिंसा में शामिल 35 लोगों को गिरफ़्तार किया है. 

हिंसा और आगजनी की वारदातें

शहर में हिंसा और आगजनी के साथ ही लूटपाट की भी घटनाएं सामने आई हैं. कई घरों और दुकानों को जलाए जाने के बाद कानून व्यवस्था को नियंत्रित करने के लिए 35 प्लाटून पुलिस बल तैनात किए गए हैं. शुक्रवार शाम को शहर में कर्फ्यू लगा दिया था.

झारखंड के डीजीपी केबी सिंह का कहना है कि हालात काबू में हैं. डीजीपी और गृह सचिव असित त्रिपाठी शुक्रवार शाम से ही भद्रक में कैंप कर रहे हैं. डीजीपी के मुताबिक छिटपुट लूटपाट की वारदातें हो रही हैं, लेकिन कहीं से भी गुटों के बीच संघर्ष की जानकारी नहीं मिली है. 

नवीन पटनायक ने की शांति की अपील

इस बीच मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने जनता से शहर में शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है. भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की भुवनेश्वर में 15 और 16 अप्रैल को बैठक होने वाली है. 2019 में राज्य में प्रस्तावित विधानसभा चुनाव को लेकर यह बैठक काफी अहम है. 

 

ध्रुवीकरण की संभावना 

भद्रक की घटना से आने वाले वक्त में सांप्रदायिक ध्रुवीकरण तेज हो सकता है. राज्य के पंचायत चुनाव में बीजेपी ने बीजू जनता दल को कड़ी टक्कर देते हुए मुख्य विपक्षी दल की हैसियत हासिल की है. ऐसे में बीजेपी के चुनावी अभियान को ध्रुवीकरण से फायदा हो सकता है. 

ओडिशा में मिश्रित आबादी वाले इलाके कम होने से सांप्रदायिक हिंसा के कम मामले सामने आते हैं. भद्रक ओडिशा के उन गिने-चुने शहरों में है, जहां मुस्लिम समुदाय की बड़ी आबादी रहती है.

First published: 8 April 2017, 14:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी