Home » राज्य » Punjab Congress MLA Surinder singh choudhary fails in dope test
 

पंजाब: कांग्रेस के विधायक डोप टेस्ट में हुए फेल, बोले- मैं तो रिलेक्स होने के लिए दवा ले रहा था

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 July 2018, 13:25 IST
(file Photo )

एक तरफ कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार ने पंजाब में नशे और ड्रग्स की तस्करी पर लगाम लगाने के लिए सभी सरकारी कर्मचारियों का डोप टेस्ट को अनिवार्य कर दिया है. वहीं, दूसरी तरफ उनकी पार्टी के ही एक विधायक डोप टेस्ट में फेल हो गए. जिसने पंजाब की कांग्रेस सरकार पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं.

मीडिया खबरों के अनुसार, करतारपुर के कांग्रेस विधायक सुरिंदर सिंह चौधरी डोप टेस्ट में फेल हो गए हैं. उनका टेस्ट पॉजिटिव पाया गया है. सुरिंदर सिंह चौधरी के युरीन सैंपल में नशीली दवा बेंजोडाइजेपिन के अंश मिले हैं. इस दवा का इस्तेमाल डिप्रेशन व नींद की समस्या से जूझ रहे लोगों के लिए किया जाता है.

हालांकि कांग्रेस विधायक नशीला पदार्थ लेने की बात से इनकार कर रहे हैं. कांग्रेस विधायक सुरिंदर सिंह चौधरी का कहना है कि उन्होंने दिमाग को रिलेक्स करने वाली दवा का सेवन किया था. यह दवा उन्होंने डॉक्टर से पूछ कर ली थी. उनके पास डॉक्टर की प्रिस्क्रिप्शन है.

आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है, जह पंजाब में किसी नेता का डॉप टेस्ट पॉजिटिव पाया गया है. इससे पहले भी ऐसे मामले सामने आते रहे हैं. जिसमें विधायक बावा हैनरी, रजिंदर बेरी ,सांसद चौधरी संतोख सिंह, विपक्ष के नेता सुखपाल सिंह खैहरा जैसे बड़े नेताओं के नाम शामिल हैं.

गौरतलब है कि पंजाब में ड्रग्स के नशे की समस्या ने अमरिंदर सिंह सरकार की नींद उड़ा रखी है. पिछले कुछ दिनों नशे के चलते कई लोगों की मौत हो चुकी है. इसको देखते हुए पंजाब सरकार ने नारकोटिक्स ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्स्टेंस (एनडीपीएस) कानून, 1985 में संशोधन कर मौत की सजा के प्रावधान को जोड़ने की केंद्र सरकार से सिफारिश की है.

इसके साथ ही राज्य सरकार ने कर्मचारियों का डोप टेस्ट करवाना अनिवार्य कर दिया है. डोप टेस्ट पॉजिटिव पाए जाने पर अधिकारियों के प्रमोशन पर रोक लगाने की बात कही जा रही है. सरकार के इस फैसले के बाद पंजाब में 3.5 लाख सरकारी कर्मचारी के डोप टेस्ट होंगे. इस नियम के बाद अब नेताओं में भी डोप टेस्ट कराने की होड़ लगी हुई है.

ये भी पढ़ें- पंजाब: पुलिस में भर्ती से पहले डोपिंग टेस्ट, सैकड़ों पकड़े गए

First published: 11 July 2018, 13:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी