Home » राज्य » punjab minister Rana Gurjit resigns on congres Capt Amarinder Singh gov after Sand mining row, rahul gandhi,sad,bjp
 

पंजाब के इस मंत्री ने भ्रष्टाचार के गंभीर आरोपों के बाद दिया इस्तीफ़ा

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 January 2018, 15:18 IST

पंजाब में कैप्टन अमरदिंर सिंह सरकार में एक मंत्री ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. पंजाब कैबिनेट के मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने खुद पर लगे भ्रष्टाचार और मनीलॉड्रिंग के आरोप के बाद मंगलवार को पद से इस्तीफा दे दिया. हालांकि अभी तक मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है.

पंजाब कांग्रेस से जुड़े सूत्रों ने आईएएनएस को बताया कि अमरिंदर सिंह मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात कर इस्तीफे से जुड़े मुद्दे और कैबिनेट के विस्तार पर चर्चा कर सकते हैं. पंजाब मंत्रिमंडल में बिजली एवं सिंचाई मंत्री राणा गुरजीत सिंह राज्य सरकार में करोड़ों रुपये के रेत खनन नीलामी में अनियमितता बरतने के चलते बीते कुछ महीनों से विवादों में हैं.

गुरजीत सिंह से जुड़े लोगों और उनकी कंपनियों को पिछले साल मई में करोड़ों रुपये के रेत खनन ठेके मिले थे. इन लोगों में एक शख्स ऐसा भी है, जो पहले राणा रणजीत का रसोइया रह चुका है. ऐसा आरोप है कि ये लोग और कंपनियां राणा गुरजीत के लिए सिर्फ मोहरे थे और ये अनुबंध बेनामी माध्यमों के जरिए लिए गए.

उन पर लगे संगीन आरोपों के बाद आम आदमी पार्टी (आप) और शिरोमणि अकाली दल (एसएडी) ने राणा गुरजीत के इस्तीफे की मांग की थी. आप नेता और पंजाब में विपक्ष के नेता सुखपाल सिंह खैरा ने मंगलवार को कहा कि राणा गुरजीत का इस्तीफे काफी समय पहले ही आ जाना चाहिए था.

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने हाल ही में इस संबंध में राणा गुरजीत और उनके बेटे को समन जारी किया. शराब और चीनी उत्पादन के कारोबार से जुड़े राणा गुरजीत को मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह का करीबी माना जाता है.

First published: 16 January 2018, 15:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी