Home » राज्य » Rahul Gandhi leaves for Madhya Pradesh, will visit mandsaur
 

मंदसौर पहुंचने से पहले हिरासत में लिए गए राहुल गांधी

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 June 2017, 16:58 IST
राहुल गांधी/ एएनआई

मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में किसानों पर फायरिंग के बाद राज्य के हालात बिगड़ गए हैं. लगातार तीसरे दिन हिंसक संघर्ष देखने को मिल रहा है. इस बीच सीआरपीएफ को भी तैनात किया गया है. पांच किसानों की फायरिंग में मौत के बाद से मंदसौर और देवास में किसानों का आंदोलन हिंसक हो गया है.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पुलिस गोलीबारी में मारे गए किसानों के परिजनों से मिलने पहले ही नीमच में पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. वह बाइक के जरिए मंदसौर के लिए रवाना हुए थे. लेकिन पुलिस ने उन्हें मध्य प्रदेश सीमा के अंदर घुसने के बाद हिरासत में ले लिया.

मध्य प्रदेश के मालवा इलाके में तीसरे दिन भी हिंसा जारी है. मंदसौर के कलेक्टर और एसपी का तबादला कर दिया है. किसानों पर गोली चलाए जाने के मामले में पिपलिया मंडी के इंस्पेक्टर अनिल सिंह ठाकुर को फील्ड ड्यूटी से हटा दिया गया है.

टोल प्लाजा पर लाखों की लूट

मंदसौर जिला प्रशासन ने राहुल गांधी के विमान को लैंड करने की इजाजत नहीं दी है. राहुल पहले उदयपुर एयरपोर्ट पहुंचे. वहां से सड़क मार्ग से वे मध्य प्रदेश जा रहे हैं. नीमच के एसपी का कहना है कि राहुल को हिंसा प्रभावित जिले में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा.

गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने मंदसौर के अलावा देवास, नीमच, धार और इंदौर समेत कई हिस्सों में लूटपाट और आगजनी की है. गुरुवार को मंदसौर में एक टोल प्लाज़ा में तोड़फोड़ की गई. इस दौरान वहां रखे 8 से 10 लाख रुपये लूट लिए गए. 

निशाने पर सार्वजनिक संपत्ति

प्रदर्शनकारी किसानों का गुस्सा सार्वजनिक संपत्ति पर ज़्यादा निकल रहा है. अलग-अलग ज़िलों में आंदोलनकारियों ने सरकारी वाहनों को जला दिया. वहीं पथराव करके बसों के शीशे तोड़ दिए. ट्रेन की पटरियों को भी निशाना बनाया गया है.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करके प्रदर्शनकारियों से शांति बनाए रखने की अपील की है. हालांकि हालात में फिलहाल कोई सुधार होता नहीं दिख रहा. मंदसौर के कलेक्टर स्वतंत्र कुमार सिंह का तबादला कर दिया गया है. उनकी जगह ओम प्रकाश श्रीवास्तव को नया कलेक्टर नियुक्त किया गया है.

First published: 8 June 2017, 9:38 IST
 
अगली कहानी