Home » राज्य » rajasthan jaipur minor girl rape incident turn communal mob vandalize vehicles and torch them situation tensed internet suspended
 

बच्ची को पिता का दोस्त बताकर ले गया अपने साथ, फिर खून से लथपथ हालात में सड़क पर छोड़ा

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 July 2019, 11:10 IST

जयपुर में एक सात साल की बच्ची के साथ रेप की घटना को अंजाम दिया गया है.  इस घटना के सामने आने के बाद से जयपुर के लोग विरोध करने के लिए सड़कों पर उतर आए हैं. यह मामला दो समुदायों के बीच का है, इसलिए इस मामले ने धीरे-धीरे सांप्रदायिक रूप ले लिया है.

जयपुर के कई इलाको में मंगलवार को फैली अफवाहों के कारण बवाल हो गया. इस बवाल के चलते पूरे जयपुर का माहौल तनावग्रस्त है. रेप की घटना से गुस्साए लोगों ने कई वाहनों में तोड़फोड़ और आगजनी की घटना को अंजाम दिया है. इतना ही नहीं कई घरों पर पत्थर भी फेंके गए.

जयपुर पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव के अनुसार, एक अज्ञात व्यक्ति ने खुद को पिता का दोस्त बता कर पीड़ित बच्ची को अपनी बाइक पर अपने साथ ले गया. यह घटना सोमवार को करीब रात 7.30 बजे से 8 बजे के बीच की है. पुलिस के मुताबिक, बच्ची के साथ घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी दो घंटे के बच्ची को खून से लथपत हालात में उसके घर से कुछ दूर छोड़कर फरार हो गया. इसके बाद बच्ची जब घर पहुंची, तो उसने अपने परिजनों को आपबीती सुनाई.

परिजनों ने फौरन इस घटना की शिकायत पुलिस में की. इस घटना ने सोशल मीडिया के जरिए सांप्रदायिक रूप ले लिया है. घटना से गुस्साए लोग उस अस्पताल में प्रदर्शन कर रहे हैं, जहां पीड़िता का इलाज चल रहा है.

घटना से भड़के लोगों ने कई वाहनों और घरों में जाकर तोड़फोड़ की. भाजपा के जयपुर जिलाध्यक्ष मोहन लाल गुप्ता की अगुवाई में मंगलवार की सुबह लोगों ने पुलिस थाने का घेराव किया और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की. खबरों के मुताबिक, भड़के लोगों ने मोहन लाल गुप्ता के वाहन में भी तोड़-फोड़ की. पुलिस के मुताबिक, गुस्साई भीड़ ने करीब 30 वाहनों में तोड़फोड़ और आगजनी की घटना को अंजाम दिया है.

पुलिस ने इस मामले में 16 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है. स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा है कि पीड़ित बच्ची के इलाज में किसी तरह की कोई लापरवाही ना बरतने का निर्देश दिया है.

छेड़खानी रोकने के लिए सरकारी स्कूल का अजीबोगरीब फरमान, 3-3 दिन स्कूल आएं लड़के और लड़कियां

 

First published: 3 July 2019, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी