Home » राज्य » Ram Janmabhoomi 2.0? Bengal VHP unit says 'kar seva' for Mandir to begin in 2018
 

बंगाल विश्व हिंदू परिषद: राम मंदिर के लिए ‘कार सेवा’ अगले साल शुरू हो जाएगी

सुलग्ना सेनगुप्ता | Updated on: 13 April 2017, 9:49 IST

 

11 अप्रैल को कोलकाता में विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) की एक रैली में अंतरराष्ट्रीय संयुक्त सचिव सुरेंद्र जैन ने अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए कानून की आवश्यकता पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि इस संबंध में संसद में तुरंत कानून पारित किया जाना चाहिए. इससे एक महीने पहले सर्वोच्च न्यायालय का सुझाव था कि राम जन्मभूमि के मुद्दे पर हिंदू और मुसलमान दोनों प्रेम से समाधान निकालें.


सुरेंद्र जैन के मुताबिक प्रधानमंत्री नरंद्र मोदी और उत्तरप्रदेश के मुंख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दोनों राम मंदिर बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं. उन्होंने दावा किया कि नए मंदिर के लिए ‘कार सेवा’ की शुरुआत अगले साल शुरू हो जाएगी.

 

 

मंदिर के लिए रैली


जैन ने कहा, ‘इस मुद्दे पर हमने खूब चर्चाएं की हैं और कोर्ट में मुकदमे लड़े हैं. अब दिल्ली और लखनऊ में हमारी सरकार है, जो अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए दृढ़ता से प्रतिबद्ध है. हमें विश्वास है कि पीएम मोदी संसद में इस संबंध में जल्द कानून पारित करेंगे. सोमनाथ मंदिर कानून बनने के बाद ही बन सका था.’ जैन के भाषण के बाद बजरंग दल और वीएचपी के सैकड़ों सदस्यों ने रैली निकाली और भाषणों के दौरान ‘जय श्री राम’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए.


जैन ने कहा कि हिंदुओं पर मुस्लिम कट्टरपंथियों ने अत्याचार किए. 11 अप्रैल को बीरभूम स्थित सूरी में बीर हनुमान जयंती रैली में लोगों पर लाठियां भांजी गईं. उन्होंने आगे कहा कि धार्मिक गतिविधियों में शांति से हिस्सा ले रहे हिंदुओं को आतंकित करने के लिए ममता बनर्जी सरकार को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी. रैली के समर्थकों और पुलिस के बीच हुई धक्कम धक्का में कुछ पुलिस वाले भी चोटिल हुए. पुलिस का आरोप था कि उन्होंने रैली से पहले पुलिस की अनुमति नहीं ली.


सूरी की रैली का जिक्र करते हुए जैन ने कोलकाता में राज्य सरकार की तीखी आलोचना की. उन्होंने कहा,‘आप धार्मिक गतिविधियों के लिए शांति से रैलियां निकाल रहे लोगों पर बल का प्रयोग कर सकते हैं, पर मैं आपसे पूछता हूं कि प्रिय दीदी, उस समय आपकी लाठी कहां चली गई थी, जब मुस्लिम कट्टरपंथियों ने मालदा के कालियाचक पुलिस स्टेशन को जला दिया था? आपकी लाठी उस समय कहां थी, जब दुर्गा पूर्जा विसर्जन रैली को रोका गया था? आपकी लाठी उस समय भी कहां थी, जब नाडिया की एक स्कूल में सरस्वती पूर्जा रोक दी गई थी? राज्य के हिंदुओं को इसके जवाब चाहिए.’

 

भारत का भगवाकरण

 


जैन ने आगे कहा कि अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (एआईटीसी) का वक्त अब पूरा हो चुका है. लोगों को उन्हें सत्ता से हटाना चाहिए और भाजपा को वोट देना चाहिए. उन्होंने बंगाल के लोगों को जोर देकर कहा कि वे देश में भगवाकरण के कार्यक्रमों में अहम हिस्सा लें. जैन ने कहा, ‘भगवाकरण का युग शुरू हो चुका है और बंगाल को इसमें उसी तरह प्रमुखता से हिस्सा लेना होगा, जिस तरह उसने आजादी के आंदोलन में लिया था.’


जैन के इस विचार का पश्चिम बंगाल आरएसएस के महासचिव जिश्नु बोस ने समर्थन किया. उन्होंने कहा, ‘हमें हिंदुओं पर हुए उन सभी अत्याचारों के बारे में श्वेत पत्र चाहिए, जो इस्लामिक कट्टपंथियों ने किए हैं.’ एआईटीसी ने अभी इस संबंध में प्रतिक्रिया नहीं की है. पार्टी नेता अणुब्रत मंडल ने जरूर भाजपा के राज्य अध्यक्ष दिलीप घोष पर सूरी में भारी उपद्रव खड़ा करने के लिए भाजपा समर्थकों को भेजने का आरोप लगाया. कैच को नगरपालिका मामलों के मंत्री फिरहाद हकीम ने बताया कि ‘कानून में अभी वक्त लगेगा और हम धर्म के नाम पर किसी को भी तनाव भड़काने नहीं देंगे.’

 

First published: 13 April 2017, 9:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी