Home » राज्य » Same birth date for over 800 residents in Aadhaar card at village of Haridwar in uttrakhand
 

उत्तराखंड: आधार कार्ड पर मचा बवाल, 1 जनवरी को पैदा हुए गांव के 800 लोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 October 2017, 10:52 IST

एक तरफ केंद्र सरकार आधार कार्ड को अनिवार्य करने जा रही है. बैंक,मोबाइल नंबर से लेकर सरकारी योजनाओं में आधार कार्ड को लिंक करने के लिए कानून बना रही है.

वहीं दूसरे तरफ जिनके कंधो पर इसे बनाने की जिम्मेदारी है. वो इस काम में कैसी लापरवाही बरत रहे हैं, इसका सबूत उत्तराखंड के हरिद्वार में देखने को मिला. हरिद्वार के एक गांव में अनोखे आधार कार्ड सामने आए हैं. इस गांव में रहने वाले लोगों के बने आधार कार्ड में करीब 800 लोगों की जन्मतिथि एक जनवरी दर्ज है. जी हां इसका मतलब ये है कि इस गांव में 800 लोग एक ही दिन पैदा हुए.

इस मामले के सामने आने के बाद आधार कार्ड की विश्वसनीयता पर सवाल खड़े हो गए हैं. ये मामला उत्तराखंड के हरिद्वार का है. हरिद्वार से 20 किलोमीटर दूर गेनीड़ी खाता गांव के सभी करीब 800 निवासियों की उनके आधार कार्ड पर एक ही जन्म तिथि प्रिंट की गई है. स्थानीय निवासियों ने दावा किया कि वोटर कार्ड और राशन कार्ड देने के बावजूद आधार कार्ड में ये गलती की गई है.

इस गड़बड़ के सामने आने के बारे में हरिद्वार के एसडीएम ने कहा है कि मीडिया रिपोर्ट के जरिए यह मामला हमारे नोटिस में आया है. हम इस मामले की जांच करेंगे और जिन्होंने भी यह गड़बड़ की है, उनके खिलाफ एक्शन लेंगे.

गौरतलब है कि आधार कार्ड बनाने में फर्जावाड़े के कई मामले पहले भी सामने आए हैं. सरकार एक तरफ आधार कार्ड को जन्म से लेकर मृत्यु के पंजीकरण तक अनिवार्य कर रही है वहीं ऐसे मामले उसकी इस महात्वाकांक्षी योजना पर पलीता लगा रहे हैं.

First published: 28 October 2017, 10:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी