Home » राज्य » shiv sena says fadnavis government should forgive the entire debt of the farmers in maharashtra.
 

'महाराष्ट्र में मध्यावधि चुनाव टालना है तो माफ़ हो किसानों का क़र्ज़'

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 June 2017, 11:06 IST

शिवसेना ने महाराष्ट्र में सत्ता पर काबिज देवेंद्र फड़नवीस सरकार से कहा है कि अगर वह राज्य में मध्यावधि चुनाव से बचना चाहती है तो किसानों का कर्ज पूरी तरह माफ करने की घोषणा करे. महाराष्ट्र में भाजपा सरकार किसानों के प्रदर्शन के कारण आलोचनाओं से घिरी है.

सूत्रों के मुताबिक भाजपा महाराष्ट्र में समय से पहले विधानसभा चुनाव कराने पर भी विचार कर रही है. महाराष्ट्र में भाजपा की अगुवाई वाली एनडीए सरकार अक्टूबर 2014 में बनी थी. इसमें शिवसेना सत्ता में उसकी मुख्य सहयोगी पार्टी  है. राज्य के सीएम फड़नवीस ने किसानों के प्रदर्शन के बीच छोटे और सीमांत किसानों के लिए कर्ज माफी का एलान किया था, लेकिन शिवसेना किसानों का कर्ज पूरी तरह माफ करने की मांग कर रही है.

शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा, "यदि उनकी पार्टी सत्ता छोड़ती है. इसके बावजूद हम कुछ नहीं गंवाएंगे और हम पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा. राज्य में मध्यावधि चुनाव के लिए हम भाजपा से बेहतर तरीके से तैयार हैं और यदि सरकार इससे बचना चाहती है तो उसे किसानों का कर्ज तत्काल पूरी तरह माफ कर देना चाहिए."

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के किसानों ने देवेंद्र फड़नवीस सरकार के खिलाफ 1 जून से 'किसान क्रांति' नाम से आंदोलन शुरू किया है. आंदोलन कर रहे किसानों ने अहमदनगर जिले में बड़ी मात्रा में दूध हाईवे पर बहा दिया.

वहीं किसानों ने चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गईं, तो वे आंदोलन जारी रखेंगे. बता दें कि महाराष्ट्र में किसान आंदोलन की शुरुआत अहमद नगर जिले में गोदावरी नदी के किनारे बसे पुणतांबा गांव से हुई. सबसे पहले इसी गांव में हड़ताल हुई.

First published: 10 June 2017, 11:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी