Home » राज्य » Shivsena-BJP alliance in Maharashtra could be broke
 

उद्धव ठाकरे: मुझे तो मध्यावधि चुनाव दिखाई दे रहा है

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 February 2017, 9:02 IST

महाराष्ट्र में शिवसेना और बीजेपी गठबंधन के बीच बीएमसी चुनाव को लेकर बनी दरार अब खाई में तब्दील होती दिख रही है. शिवसेना अब पूरी तरीके से गठबंधन तोड़ने को तैयार नजर आ रही है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एक समाचार चैनल से बातचीत में इसके साफ संकेत दिए हैं. 

न्यूज़ चैनल एनडीटीवी से बातचीत में उद्धव ने कहा है, "मुझे तो निकट भविष्य में मध्यावधि चुनाव नज़र आ रहे हैं. लोग तैयार रहें." 

'मुंबई के खिलाफ कलंक बर्दाश्त नहीं'

उद्धव ने बीजेपी की ओर से बीएमसी में 350 करोड़ रुपये के घोटाले के आरोप पर कहा, "मुंबई हमारा गढ़ है. मैं इसके खिलाफ कोई भी कलंक बर्दाश्त नहीं करूंगा. आप मेरे बारे में चाहे कुछ भी कहें लेकिन मेरे शहर के बारे में नहीं." 

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस से संबंधों के सवाल पर ठाकरे ने कहा, "मधुर संबंध का मतलब यह नहीं है कि आप झूठ बोलें." पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले की आलोचना करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा, "जो व्यक्ति नोटबंदी से परेशान नहीं है, वह मनुष्य नहीं है."

बीएमसी चुनाव में टूटा 25 साल का साथ 

देश की सबसे बड़ी नगरपालिका में इस बार बीजेपी और शिवसेना की राहें जुदा हैं. बीएमसी का बजट 37 हजार करोड़ रुपये का है. 25 साल में पहली बार दोनों बीएमसी चुनाव अलग-अलग लड़ रहे हैं.

बीजेपी ने 227 सीटों वाली बीएमसी में 114 सीटें मांगी थीं. हालांकि शिवसेना 60 से ज्यादा सीटें देने को तैयार नहीं थी. विवाद बढ़ने पर शिवसेना ने गठबंधन तोड़ते हुए अकेले चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी.

बीजेपी ने 195 सीटों पर अपने उम्मीदवार घोषित किए हैं. दोनों पार्टियों में जुबानी जंग भी तेज हो गई है. शिवसेना ने पीएम मोदी के रेनकोट वाले बयान पर भी निशाना साधा था. बीएमसी चुनाव के लिए 21 फरवरी को मतादान होगा. नतीजों का एलान 23 फरवरी को होगा.

First published: 15 February 2017, 9:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी