Home » राज्य » spiritual guru of pm modi swami asthandhand maharaj passes away in kolkatta.
 

मोदी को राजनीति में उतरने की सलाह देने वाले स्वामी आत्मास्थानंद का निधन

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 June 2017, 11:19 IST
(pm modi twitter account)

पीएम मोदी के आध्यात्मिक गुरु स्वामी आत्मास्थानंद महाराज का रविवार शाम लंबी बीमारी के बाद 99 साल की उम्र में निधन हो गया. स्वामी आत्मास्थानंद महाराज रामकृष्ण मठ और मिशन के प्रमुख थे. लंबी बीमारी के बाद उन्होंने कोलकाता स्थित रामकृष्ण मिशन सेवा प्रतिष्ठान में आखिरी सांस ली.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने आध्यात्मिक गुरु स्वामी आत्मस्थानंद महाराज के निधन पर दुख व्यक्त किया है. उन्होंने स्वामी के निधन को अपनी निजी क्षति बताया है.

 

मोदी ने ट्विटर पर लिखा, "मैं अपनी जिंदगी के महत्वूपर्ण क्षण में उनके साथ रहा था." शनिवार सुबह से स्वामी आत्मास्थानंद की हालत काफी बिगड़ गई थी और उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था. उनकी खराब स्थिति की खबर पाकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी उन्हें देखने अस्पताल पहुंची थीं. ममता बनर्जी ने स्वामी आत्मस्थानंद महाराज के निधन पर शोक व्यक्त किया है.

संन्यास की जगह राजनीति में जाने को कहा

नरेंद्र मोदी किशोरावस्था में संन्यासी बनने बेलूरमठ आए थे, लेकिन स्वामी आत्मस्थानंद महाराज ने यह कहते हुए उनके अनुरोध को खारिज कर दिया था कि उनकी कहीं और जरूरत है. उन्होंने मोदी से कहा कि वे लोगों की खातिर काम करने के लिए बने हैं न कि संन्यास के लिए. इसके बाद मोदी अपने गुरु के साथ राजकोट लौट आए और आरएसएस के मेंबर बन गए.

First published: 19 June 2017, 11:19 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी