Home » राज्य » Tamil Nadu- farmers wear torn clothes & empty bottles demanding drought relief fund at Delhi's Jantar Mantar.
 

'अनसुना' अनशन: तमिलनाडु के किसानों का फटे कपड़े और खाली बोतलों के साथ हल्ला बोल

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 April 2017, 16:37 IST

तमिलनाडु से दिल्ली आए किसान अपनी मांगें मनवाने के लिए पिछले एक महीने से दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना दे रहे हैं. सरकार का ध्यान खींचने के लिए वो विरोध के नए-नए तरीके अपना रहे हैं. आज जंतर-मंतर पर तमिलनाडु से आए किसानों ने फटे कपड़ों के साथ अपना विरोध प्रदर्शन किया. इसके अलावा इनके हाथों में खाली बोतलें भी थीं.

तमिलनाडु के ये किसान अपनी बदहाल हालत दिखाने के लिए ये सब कर रहे हैं, लेकिन सरकार की तरफ से इन्हें कोई आश्वासन नहीं मिला है. किसानों की मांग है कि उनका कर्ज सरकार माफ कर दे. इसके अलावा तमिलनाडु के किसानों को सूखे से हुए नुकसान के लिए सरकार 40,000 हज़ार करोड़ रुपए का फंड भी जारी करे. इनकी मांग है पीएम मोदी इनसे एक बार मिलें ताकि ये किसान अपने मन की बात उन्हें बताएं.

जंतर-मंतर पर एक महीने से जमा किसान

गौरतलब है कि तमिलनाडु से आए इन किसानों का प्रतिनिधिमंडल जब पीएम से नहीं मिल पाया था , तो इनमें से तीन किसानों ने निर्वस्त्र होकर पीएमओ के बाहर प्रदर्शन किया था. 

करीब एक महीने पहले तमिलनाडु से दिल्ली आए 100 किसान जंतर-मंतर पर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. ये किसान अपने साथ उन नर कंकालों को भी लाए हैं, जिन्होंने खेती में घाटा होने पर आत्महत्या कर ली थी.

इसके अलावा चूहों को खाकर भी वो अपना विरोध जता रहे हैं. अभी कुछ दिन पहले इन्होंने जमीन पर चावल और दाल डालकर भी खाया था. इन किसानों का  कहना है कि जब तक इनकी मांग पूरी नहीं होगी ये यहां से वापस नहीं लौटेंगे.

First published: 19 April 2017, 16:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी