Home » राज्य » Ex TTD board member Shekhar Reddy arrested by CBI
 

खनन कारोबारी शेखर रेड्डी गिरफ्तार, आयकर छापे में मिले थे 106 करोड़

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 December 2016, 17:42 IST

सीबीआई ने तमिलनाडु के बड़े खनन कारोबारी शेखर रेड्डी को गिरफ्तार किया है. बेनामी कैश के लेन-देन के मामले में शेखर रेड्डी को सीबीआई ने गिरफ्तार किया है. 

गिरफ्तारी के बाद शेखर रेड्डी को 3 जनवरी 2017 तक के लिए सीबीआई की हिरासत में भेज दिया गया है. आयकर अधिकारियों ने 8 दिसंबर को चेन्नई समेत कई शहरों में उसके ठिकानों पर छापे मारे थे. आयकर सर्वे के बाद कुल 106 करोड़ रुपये की रकम बरामद हुई थी.

मनी लॉन्ड्रिंग का भी केस

आयकर विभाग ने छापे के दौरान 127 किलो सोना भी बरामद किया था. वहीं जब्त रकम में से 10 करोड़ रुपये के नए नोट भी शामिल थे. इस मामले में सीबीआई ने रेड्डी के खिलाफ केस दर्ज किया था.

इस बीच प्रवर्तन निदेशालय ने भी शेखर रेड्डी के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है. आठ नवंबर को नोटबंदी के बाद से आयकर छापों में सबसे ज्यादा रकम शेखर रेड्डी के ठिकानों से बरामद हुई है.

आयकर अधिकारियों के रडार पर श्रीनिवास रेड्डी, शेखर रेड्डी और प्रेम नाम के शख्स हैं. गुप्त जानकारी मिलने पर चेन्नई शहर के अन्नानगर और टीनगर इलाके में स्थित आठ ज्वैलरी शॉप पर एक साथ छापे मारे गए थे. जिसके बाद मनी एक्सचेंज के बड़े रैकेट का खुलासा हुआ था. 

मुख्य सचिव के घर पर छापा

गौरतलब है कि शेखर रेड्डी तिरुमला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) के बोर्ड मेंबर भी थे, लेकिन इस मामले का खुलासा होने के बाद आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू ने उन्हें इस पद से हटा दिया था.

इससे पहले बुधवार को तमिलनाडु के मुख्य सचिव राममोहन राव के चेन्नई स्थित आवास पर भी आयकर विभाग ने  छापे मारे थे. सूत्रों के मुताबिक शेखर रेड्डी ने मुख्य सचिव के साथ कुछ संपत्ति खरीदी थी. 

First published: 21 December 2016, 17:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी