Home » राज्य » Ten Delhi Metro stations to go 'cashless' from 1 January
 

दिल्ली के 10 मेट्रो स्टेशन एक जनवरी से होंगे ‘कैशलेस’

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 6:41 IST

दिल्ली मेट्रो के 10 स्टेशन इस साल 1 जनवरी, 2017 से पूरी तरह कैशलेस हो जाएंगे. इन स्टेशनों पर अब से स्मार्ट कार्ड या ऑनलाइन पेमेंट के जरिये ही टिकट खरीदा जा सकेगा.

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के बयान के मुताबिक, इन स्टेशनों के यात्रियों को उनके मोबाइल फोनों पर पेटीएम ऐप के साथ स्टेशन पर क्यूआर कोड स्कैन करना होगा. यह टोकन विक्रेता या ग्राहक सेवा ऑपरेटर को एक संदेश भेजेगा, जो वांछित राशि के साथ कार्ड रीचार्ज या टोकन जारी करेंगे.

डीएमआरसी (दिल्ली मेट्रो रेल निगम) के प्रमुख मंगू सिंह ने कहा कि लोगों के पास पेटीएम जैसे मोबाइल वॉलेट के जरिये भुगतान करने का विकल्प होगा.

जिन यात्रियों के पास मोबाइल फोन नहीं होगा या मोबाइल में पेटीएम की सुविधा नहीं होगी, उनके लिए भी कैशलेस भुगतान की व्यवस्था की जाएगी. इसके अलावा उन स्टेशनों पर टिकट वेंडिंग मशीन (टीवीएम) से भी कैशलेस भुगतान हो सकेगा.

सिंह ने कहा, "इन स्टेशनों पर टोकन एवं स्मार्ट कार्ड खरीदने या टॉप अप के लिए क्यूआर-कोड का इस्तेमाल कर पेटीएम के जरिये नकदीहीन लेन देन किया जा सकता है, यह कोड इन स्टेशनों के टोकन काउंटर या ग्राहक सेवा केंद्र पर प्रदर्शित किया जाएगा." हालांकि, शुरुआत में कम से कम एक काउंटर पर नकदी का विकल्प होगा.

जिन स्टेशनों पर यह सुविधा मौजूद होगी उनमें रेड लाइन के रोहिणी पूर्ण एवं रोहिणी पश्चिम, यलो लाइन का एमजी रोड स्टेशन, ब्लू लाइन के मयूर विहार फेज-1, निर्माण विहार, तिलक नगर, जनकपुरी पश्चिम एवं नोएडा सेक्टर-15 और वॉयलेट लाइन के नेहरू प्लेस एवं कैलाश कॉलोनी शामिल हैं.

अधिकारी ने कहा, "इन स्टेशनों पर 70 प्रतिशत या उससे अधिक स्मार्ट कार्ड उपयोगकर्ता हैं जिस कारण से वहां कार्ड से लेन देन दूसरे स्टेशनों की तुलना में आसान है और वहां मोबाइल कनेक्टिवटी भी सही है." रिफंड की स्थिति में वह नकदी की बजाए पेटीएम खातों के जरिये किए जाएंगे और उपयोगकर्ताओं के ई-वॉलेट में चार दिन के भीतर पैसे रिफंड हो जाएंगे.

First published: 24 December 2016, 1:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी