Home » राज्य » Tension rises between CM and Governor of west bengal
 

बिदुरिया हिंसा: पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री बनाम महामहिम, तनाव बढ़ा

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 July 2017, 13:49 IST

पश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना ज़िले में हुई सांप्रदायिक हिंसा में अब राजनीतिक विवाद पैदा हो गया है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सूबे के राज्यपाल पर सनसनीखेज़ आरोप लगाया है. इसके बाद से कई राजनीतिक दलों के नेता भी बंट गए हैं. कोई सीएम ममता बनर्जी का पक्ष ले रहा है तो कोई राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी को जायज़ ठहरा रहा है.

एक धर्म विशेष के बारे में फेसबुक पर भड़काऊ फोटो डालने के बाद पश्चिम बंगाल पुलिस ने उत्तरी 24 परगना ज़िले से एक नाबालिग को हिरासत में लिया था. इसके बाद भाजपा के कुछ नेताओं ने राज्य के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी से इस सिलसिले में मुलाक़ात कर न्याय की गुहार लगाई थी.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इसके बाद राज्यपाल ने ममता बनर्जी को फोन किया लेकिन उनकी कही गई कुछ बातें ममता को अच्छी नहीं लगीं. इसके बाद ममता बनर्जी भड़क गईं और मीडिया के सामने आकर अपनी बात रखी. उन्होंने कहा, 'मेरे पूरे जीवन में मुझे इस तरह से अपमानित नहीं किया गया. उनकी बातें सुनकर मुझे लगा कि अपने पद इस्तीफा दे देना चाहिए.'

ममता राज्यपाल पर ख़ूब बरसीं. उन्होंने कहा कि वह उनकी दया से सत्ता में नहीं आई हैं. जिस तरह राज्यपाल का पद संवैधानिक है, उसी तरह उनका भी पद (मुख्यमंत्री) संवैधानिक है. वह किसी एक समूह का पक्ष नहीं ले सकते. वह बिल्कुल भाजपा के किसी ब्लॉक प्रेज़िडेंट की तरह बात कर रहे थे. मैं इससे बुरी तरह आहत हूं.

First published: 5 July 2017, 13:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी