Home » राज्य » Trivendra Singh Rawat is all set to be the next chief minister of Uttarakhand All you need to know about him
 

जानिए कौन हैं उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 March 2017, 16:33 IST
Trivendra Singh Rawat

बीजेपी ने उत्तराखंड में करिश्माई प्रदर्शन करते हुए 70 में से 57 सीटें हासिल कीं जबकि पिछली बार 2012 में उससे एक सीट अधिक जीतने वाली कांग्रेस 11 सीट पर आकर सिमट गई है.  इस सत्ता विरोधी लहर में खुद सीएम हरीश रावत दोनों सीट हार गए हैं. लेकिन नतीजों के बाद सब ये ही कयास लगा रहे थे कि राज्य का अगला सीएम कौन होगा?

अब इससे पर्दा उठ गया है आैर राज्य के 9वें मुख्यमंत्री होने का गौरव मिला है अमित शाह के करीबी त्रिवेंद्र सिंह रावत को. जिसकी औपचारिक घोषणा आज देहरादून में विधायक दल की बैठक के बाद हुर्इ.

इस बैठक में निवार्चित विधायकों के साथ पर्यवेक्षक केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, संगठन सचिव सरोज पांडे, चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान और राज्य के प्रभारी श्याम जाजू मौजूद थे. आइए हम आपको उनके बारे में कुछ महत्वपूर्ण बाते बताते हैं.

1- त्रिवेंद्र सिंह रावत आरएसएस की पृष्ठभूमि से आते हैं. उन्होंने 1983 से 2002 तक उत्तराखंड क्षेत्र में प्रचारक के रुप मे किया और फिर उत्तराखंड बनने के बाद भी ये ज़िम्मेदारी संभाली.

2- त्रिवेंद सिंह रावत इस समय झारखंड के राज्य प्रभारी हैं. जिनकी अगुवाई में झारखंड में बीजेपी की सरकार बनी थी

3- 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने अमित शाह के साथ मिलकर चुनाव की जिम्मेदारी संभाली और 73 सीटें बीजेपी गठबंधन को दिलाई जिसके बाद वो शाह के बेहद करीबी भी बन गए.

4- त्रिवेंद सिंह रावत डोईवाला विधानसभा से तीसरी बार जीतकर आए हैं.

5- त्रिवेंद सिंह रावत इतिहास से पोस्ट ग्रेजुएट हैं और हेमवती नंदन बहुगुणा विश्वविद्यालय से जर्नलिज्म में डिप्लोमा भी लिया है. 

हालांकि त्रिवेंद्र सिंह रावत पर 2007 में कृषि मंत्री रहते हुए बीज घोटाले का आरोप है जिसकी जांच नैनीताल हाईकोर्ट में चल रही है. एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत में उन्होंने कहा कांग्रेस ने उन्हें इस मामले में जानबूझकर फंसाया जिसकी जांच में अब तक कुछ भी साबित नहीं हुआ है वो उन सभी लोंगो पर मानहानि का केस करेंगे जिन्होने उनका नाम खराब करने की कोशिश की है. 

First published: 17 March 2017, 15:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी