Home » राज्य » Uttarakhand: 2 bike riders men died in a landslide on NH-9 (Haldwani-Almora) near Nainital's Khairna 1 body recovere by police.
 

उत्तराखंड: NH-9 बना 'मौत का हाईवे', दो बाइक सवार ज़मींदोज

हेमराज सिंह चौहान | Updated on: 31 July 2017, 15:28 IST

उत्तराखंड के अल्मोड़ा हल्द्वानी हाईवे पर ज़बरदस्त भूस्खलन की खबर है. ये भूस्खलन NH-9 पर डेंजर जोन भौरियाबैंड़ में हुआ. इस भूस्खलन में दो लोगों की मौत की खबर है. मलबे और बोल्डर की चपेट में आकर ये बाइक सवार दो युवक जिंदा ही दफन हो गए. 

जानकारी के मुताबिक, सोमवार को अल्मोड़ा के खैरना से कुछ ही दूर हाईवे पर डेंजर जोन भौरियाबैंड़ की पहाड़ी दरक जाने की वजह भूस्खलन हो गया. इसी दौरान हल्द्वानी से अल्मोड़ा की ओर बाइक से जा रहे दो युवक बोल्डर और मलबे की चपेट में आ गए.

बोल्डर के साथ मलबा इतनी तेजी से आया कि पलक झपकते ही दोनों बाइक सवार जमींदोज हो गए. एनएच 9 के कर्मियों ने पॉकलैंड मशीन से बमुश्किल मलबा हटाया, तब तक दोनों दम तोड़ चुके थे.

दो में से मृतक युवक की पहचान पंकज (29 वर्ष) पुत्र घनानंद निवासी मकान नंबर-9 बजूनिया हल्द्वानी के रूप में हुई है, जबकि दूसरे का पता नहीं चल पाया है. मलबे में बुरी तरह क्षतिग्रस्त बाइक में भारतीय सेना का अशोक की लाट वाला प्रतीक चिह्न भी लगा है.

आंशका जताई जा रही है कि हादसे के शिकार युवक सेना के जवान हो सकते हैं. हालांकि अभी इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है. नेशनल हाईवे को काटकर चौड़ा करने का काम लंबे समय से चल रहा है, जिस कारण यहां आए दिन हादसों का खतरा बना हुआ है. मानसून को देखते हुए इसे एक महीने के लिए बंद भी किया गया था, मगर बाद में खोल दिया गया. 

नेशनल हाईवे-9 के चौड़ाकरण के दौरान कई लोगों की जान जा चुकी हैै. इस वजह से जानकार लोग इसे अब मौत का हाईवे कह रहे हैं. इसके अलावा मशीनों से पहाड़ काटने के कारण यहां आए दिन सड़क पर मलबा गिर रहता है, जो सीधे जाकर नदी पर गिर रहा है. कई पर्यावरणविद नदी के भविष्य को लेकर भी आशंका जता रहे है.

First published: 31 July 2017, 15:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी