Home » राज्य » Uttarakhand: Badrinath Temple open for public; President Mukherjee arrive at Badrinath Temple for prayer.
 

श्रद्धालुओं के लिए खुले बदरीनाथ के कपाट, राष्ट्रपति भी दर्शन के लिए पहुंचे

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 May 2017, 11:30 IST

शनिवार सुबह 4 बजकर 15 मिनट पर बदरीनाथ के कपाट खुलते ही श्रद्धालुओं के लिए चार धाम की यात्रा पूरी तरह से शुरू हो गयी है. मंदिर के पुजारियों द्वारा वैदिक विधि-विधान व मंत्रोच्चारण के बीच भगवान बदरीनाथ धाम के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए हैं. भगवान बदरीनाथ की पूजा करने के लिए खुद राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी शनिवार सुबह भगवान बदरीनाथ के दर पर पहुंचे.

बदरीनाथ धाम में आधी रात से ही मंदिर में प्रवेश करने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ लगनी शुरू हो गई थी. सुबह कपाट खुलते ही भगवान बदरी विशाल के जयकारों से बदरीनाथ धाम गूंज उठा. इस दौरान सेना के बैंड की धुन के साथ ही श्रद्धालु भगवान के जयकारे लगाते रहे. इस मौके पर करीब दस हजार श्रद्धालुओं की भीड़ थी.

राजभवन में विश्राम करने के बाद सुबह करीब सवा सात बजे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचे. सुबह करीब 8.25 पर उनके हेलीकॉप्टर ने बद्रीनाथ धाम में बनाए गए सेना के हेलीपैड पर लैंड किया. उनके साथ प्रदेश के राज्यपाल डॉक्टर केके पॉल और उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत भी मौजूद रहे.

बदरीनाथ में राष्ट्रपति की सुरक्षा के व्यापक प्रबंध के तहत सुबह करीब सवा सात बजे से मंदिर परिसर को जीरो जोन कर दिया गया और मंदिर परिसर से श्रद्धालुओं को हटा दिया गया. अब अगले 6 महीने तक भगवान बदरी विशाल की पूजा करने के लिए कपाट खुले रहेंगे.

First published: 6 May 2017, 11:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी